Farmers Protest : अगली बैठक में निकल सकते हैं सुलह के रास्ते… सरकार के बाद अब किसान भी दिखा सकते हैं नरमी

नई दिल्ली। आंदोलनकारी किसान संगठनों और सरकार के बीच सुलह के रास्ते खुलने लगे हैं। नए साल में चार जनवरी को होने वाली अगले दौर की बैठक में समस्या के समाधान की संभावनाएं बढ़ गई हैं। किसान संगठनों ने दूरदर्शिता का परिचय देते हुए अपनी जिद को छोड़कर संवैधानिक प्रक्रिया को स्वीकार कर लिया है। बुधवार को हुई वार्ता के दौरान दोनों पक्षों के बीच तमाम मुद्दों पर सैद्धांतिक सहमति बना ली गई है। माना जा रहा है कि अगली बैठक में किसान संगठन कानून निरस्त करने की मांग छोड़कर एमएसपी की गारंटी पर बातचीत केंद्रित करेंगे।

नए कृषि कानूनों को रद करने पर अड़ियल रुख अपनाए किसान नेताओं ने अपना रुख नरम किया है। कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर और रेल व वाणिज्य मंत्री पीय़ूष गोयल ने बैठक में किसान नेताओं के समक्ष कानून बनाने अथवा संशोधन की संवैधानिक प्रक्रिया का विस्तार से उल्लेख भी किया। तोमर ने बताया कि इन कानूनों के बनाने में ढाई दशक से अधिक का समय लगा है। इसमें विशेषज्ञ, कानूनविद, राजनीतिक दल, योजना आयोग और भी कई तरह गैर सरकारी संगठनों की सिफारिशों की मदद ली गई है।

Murder Mystery -फॉरेंसिक सबूतों के अभाव में फिर से खोदी गई नबालिक कि कब्र…निकाला जाएगा ज़रूरी सैंपल

जिले के देवभोग थाना इलाके के कैठपदर में 28 दिसंबर को प्रेमी ने नाबालिग प्रेमिका की हत्या कर दी थी . मर्डर के आरोप में पुलिस आरोपी प्रेमी चंद्रध्वज नागेश को गिरफ्तार भी कर चुकी है . लेकिन फॉरेंसिक विभाग ने पुलिस के सबूत को पर्याप्त नहीं माना है . क्योंकि पुलिस कातिल को सलाखों के पीछे भेजने की जल्दबाजी में मृतिका का पूरा सैंपल लेना ही भूल गई . इसलिए डॉक्टरों ने कब्र से शव निकलवाकर दोबारा डीएनए सैंपल लिया है . जिससे अपराध की पुष्टि हो सके,
पुलिस के मुताबिक मृतिका नाबालिग का डीएनए सैंपल लेने के लिए न्यायालय से अनुमति लिया गया . जिसके बाद शव को देवभोग तहसीलदार समीर शर्मा की मौजूदगी में कब्र से बाहर निकालकर डीएनए जांच के लिए डॉक्टरों ने हड्डी और बाल का सैंपल लिया है . देवभोग थाना प्रभारी हर्ष वर्धन बैस ने बताया कि डीएनए जांच के लिए जिस अंग का सैंपल पहले भेजा गया था , उसे फॉरेंसिक विभाग ने पर्याप्त नहि माना है . इसलिए विधिवत अनुमति लेकर दोबारा सैंपल लेने लिया गया . अब पुलिस को फॉरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार है .

इस मामले में पुलिस केवल हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया है . आरोपी ने पुलिस के समक्ष मेमोरंडम कथन में अपराध को स्वीकार भी किया है . आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसका प्रेमिका के साथ अवैध संबंध था और वारदात के दिन भी शारीरिक संबंध बनाया . लेकिन डॉक्टरों ने पोस्ट मार्टम रिपोर्ट में इसकी पुष्टि नहीं की है . पुलिस के मुताबिक घटना का कोई भी चश्मदीद गवाह भी नहीं है . नाबालिग की हत्या हो चुकी थी , ऐसे में दुष्कर्म का मामला दर्ज करना आसान नहीं था . इसलिए पुलिस हत्या मामले में साक्ष्य जुटाने के लिए फूंक फूंककर कदम उठाना पड़ रहा है . पुलिस के सामने अभी साक्ष्य जुटाने और केस को मजबूत करने के लिए समय है . यदि हत्यारा उसका प्रेमी ही है , तो पुलिस को कोर्ट में सबूत पेश करना होगा . इसलिए पुलिस को एफएसएल रिपोर्ट और डीएनए मेपिंग कराना अनिवार्य हो गया है . जिससे पीड़िता के परिवार को न्याय मिल सके . हालांकि पुलिस मौके – ए – वारदात से कई जरूरी साक्ष्य एकत्र कर जांच के लिए लेबोटरी भेज चुकी है .

ब्रेकिंग : पर्यटन मंडल के रिसोर्ट में न्यू इयर इवेंट के पोस्टर पर बवाल… अब टूरिज्म बोर्ड ने की कार्रवाई… रिसॉर्ट का मैनेजर पदमुक्त… जानिए पूरा मामला…

रायपुर। छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड ने जशपुर जिले के बालाझापर में स्थित रिसॉर्ट के मैनेजर को कर्तव्य में लापरवाही बरतने तथा बोर्ड की बिना अनुमति के नए साल के उपलक्ष्य में रिसॉर्ट में इवेन्ट आयोजन के मामले में वहां पदस्थ मैनेजर को तत्काल प्रभाव से पदमुक्त कर दिया है।
छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड के जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड के जशपुर स्थित रिसॉर्ट बालाझापर में 31 दिसम्बर को नये साल के उपलक्ष्य में इवेन्ट आयोजन को लेकर विभिन्न न्यूज पोर्टल में समाचार प्रसारित हुए हैं।
उन्होंने बताया कि बालाझापर रिसॉर्ट में किसी भी तरह के इवेन्ट का आयोजन टूरिज्म बोर्ड द्वारा नहीं किया जा रहा है और न ही इस आयोजन के लिए छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड से किसी प्रकार की अनुमति ली गई है।

नव वर्ष के उपलक्ष्य में रिसॉर्ट में किसी भी तरह का आयोजन को बोर्ड ने पूर्णतः अवैधानिक माना है। इसके लिए प्रथम दृष्टया दोषी रिसॉर्ट के मैनेजर को तत्काल प्रभाव से पदमुक्त करने के साथ ही छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड ने इवेन्ट आयोजन की खबर को भ्रामक बताया है।

दरअसल रात भर फूल एन्जॉय और डांस भी करने को मिलेगा, बाकी कोई दिक्कत होगी तो हम साथ खड़े रहेंगे, बिलकुल छूट…फुल एन्जॉय मात्र 1900 में… जशपुर के नवनिर्मित सरना एथनिक रिसोर्ट में 31 दिसंबर की रात आयोजित होने वाले कार्यक्रम को पोस्टर में छपे इन शब्दों ने जनजातीय समाज को इस कदर आहत किया था, उन्होंने सड़क पर उतरकर आंदोलन करने की चेतावनी दी थी। वहीं कोरोना काल में नियम विरुद्ध कार्यक्रम के आयोजन के खिलाफ कलेक्टर से कार्रवाई की मांग की थी।

ब्रेकिंग : प्रदेश में यहाँ पति – पत्नी ने एक साथ की खुदखुशी… अज्ञात कारण की जांच में जुटी पुलिस 

कांकेर। जिले के भानुप्रतापपुर थानांतर्गत ग्राम कुड़ाल में दंपत्ती एक साथ फांसी पर झूल गये। पति – पत्नी ने किन कारणों के चलते एक साथ आत्महत्या का कदम उठाया, इस बात का अभी खुलासा नहीं हो पाया है।

बताया जा रहा है कि दोनों रोजगार गारंटी में कार्य करने गये थे। पुलिस का कहना है कि जांच के बाद ही आत्महत्या के कारणों का पता चल पायेगा। सूचना पर पुलिस घटना स्थल पहुंची जांच पंचनामा व पोस्टमार्टम उपरांत दोनों के शव अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंपा गया। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गोपाल कोरचे और श्यामबत्ती कोरचे दोनों रोजगार गारण्टी में कार्य करने गये थे। यहां से वे घर लौटते वक्त जंगल में एक साथ फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस का कहना है कि दोनों ने प्रेम विवाह किया था।

CORONA BREAKING : प्रदेश में साल के आखिरी दिन भी कोरोना का कहर जारी… आज मिले 1,035 नए कोरोना संक्रमित… मौत के आकड़े खौफनाक… इन जिलों में हुआ कोरोना विस्फोट

रायपूर। प्रदेश में साल के आखिरी दिन भी कोरोना का कहर जारी है। रोजाना हजारो की तादात में संक्रमितों की पुष्टि चिंताजनक है। वह स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन में आज 1,035 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की पहचान हुई व 1,365 मरीज़ स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज/रिकवर्ड हुए। राज्य में एक्टिव मरीज़ों की संख्या 11,435 है। छत्तीसगढ़ में आज 16 लोपगो ने अपनी जान गवाई है।

इन जिलों से मिले इतने संक्रमित

ग्राम कुंडा में धूमधाम से संत शिरोमणि बाबा गुरु घासीदास की जयंती मनाई गई

कुंडा – पंडरिया ब्लॉक के ग्राम कुंडा मे संत शिरोमणि बाबा गुरु घासीदास जयंती समारोह का भव्य कार्यक्रम रखा गया जिसके सांस्कृतिक कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में लोरमी विधायक धर्मजीत सिंह उपस्थित रहे।अध्यक्षता जिला पंचायत सदस्य रामकुमार भट्ट ने की विशिष्ट अतिथि के रूप में सेवाराम कुर्रे जनपद अध्यक्ष प्रतिनिधि, कार्यक्रम के संरक्षक कुन्डा के पूर्व सरपंच सुरेंद्र सिंह छाबड़ा, आनंद सिंह पंडरिया,अमरजीत सलूजा, रामस्वरूप साहू,दिनेश मिश्रा,सुरेश दुबे, हरचरण सिंह खनूजा,ध्वजा राम चन्द्राकर,उपसरपंच उमेश चंद्राकर,अश्विनी यदु,बाबू लाल रजक, राकेश छाबड़ा, अविश यादव,रवि शुक्ल,अंशुमान दुबे लोरमी ,शिव गायकवाड़, आकाश सिंह ,सत्यजीत सिंह, मुन्ना आजमी,अमन खनूजा,रत्नाकर निर्मलकर,हरजिंदर मक्कड़, आदि उपस्थित रहे

मुख्य अतिथि धर्मजीत सिंह विधायक लोरमी ने संबोधित करते हुए सभी लोगों को गुरु पर्व की हार्दिक बधाई देते हुए परम पूजनीय संत शिरोमणि बाबा गुरु घासीदास जी के जीवन चरित्र पर प्रकाश डालते हुए कहा कि बाबा जी ने मानव समाज को शिक्षित करते हुए यही उपदेश दिया है सत्य ही ईश्वर है सत्य से बड़ा कोई तप नहीं और सत्य से बड़ा कोई पूजा नहीं हो सकता सत्य से धरती खड़े सत्य से खड़े अकाश सत्य से पृथ्वी उपजे कह गए गुरु घासीदास। सत्य से ही यह संसार है हर व्यक्ति को सत्य के मार्ग पर हमेशा चलना चाहिए। मनखे मनखे एक समान के संदेश देने वाले ऐसे महान संत को मैं नमन करता हु। कुंडा क्षेत्र के विकास के लिए हमेशा तन मन धन से समर्पित भाव से हमेशा कार्य करता रहूंगा। और जो वर्षों की मांग थी कुंडा को पूर्ण तहसील की दर्जा जिसके लिए विधानसभा में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के समक्ष बात रखा तो उनके द्वारा कुंडा को पूर्ण तहसील बनाने की घोषणा किया गया है। जोकि हमारे कुंडा अंचल के समस्त वासियों के लिए अत्यंत उत्साह और खुशी की बात है। मैं सदैव कुंडा क्षेत्र के विकास के लिए कोटवार से लेकर मुख्यमंत्री प्रधानमंत्री तक जाना पड़ेगा तो जरूर जाकर कुंडा क्षेत्र के विकास के लिए बात रखेंगे, कार्यक्रम की अध्यक्षता रामकुमार भट्ट जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि ने कहा कि बाबाजी ने सत्य एवं अहिंसा के मार्ग पर चलने का जो रास्ता दिखाया है हम सभी उसपर चलकर अपने जीवन को सार्थक करेंगे भट्ट ने कुन्डा क्षेत्र के विकास में हमेशा सहयोग देने की बात कही, कार्यक्रम के संरक्षक सुरेन्द्र छाबड़ा ने कहा कि बाबाजी के बताए मार्ग पर चलते हुये अपना जीवन जिये यही आज की जयंती मनाने की उपलब्धि होगी छाबड़ा ने कुन्डा को पूर्ण तहसील की मांग विधानसभा में उठाने तथा माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा पूर्ण तहसील बनाने की घोषणा करने हेतु क्षेत्र की जनता की ओर से आभार व्यक्त किया, पंडरिया के युवा नेता आनंद सिंह ने भी बाबाजी की जयंती की शुभकामनाएं देते हुए कुन्डा को पूर्ण तहसील के दर्जा दिलाने हेतु आभार माना।
कार्यक्रम को सेवाराम कुर्रे, रामस्वरूप साहू,दिनेश मिश्रा,सुरेश दुबे,जनपद सदस्य अश्विनी यदु ने भी संबोधित किया।

कार्यक्रम को सफल बनाने में आयोजन समिति के बसंत भप्परवाल,ईश्वरी सोनवानी, मनोज भास्कर, राजाराम सोनवानी, साहेब लाल,कृष्णा बंजारे, अधिराजी, परमेश्वर सोनवानी,रूपचंद पात्रे सहित सभी सदस्यगण सक्रिय रहे
आयोजन समिति के द्वारा छत्तीसगढ़ी लोक कला सपना के सोन चिरैया का रंगारंग संस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति देखने हजारों की संख्या में ग्रामवासी एवं क्षेत्रवासी उपस्थित रहे

लॉकडाउन ब्रेकिंग : कोरोना संकट के बीच न्यू ईयर… राज्यों ने उठाए ये बड़े कदम… नाइट कर्फ्यू से लेकर भीड़ पर बैन… जानिए सभी राज्यों का हाल….

नई दिल्ली। नया साल को लेकर कई राज्यों ने तैयारियां शुरू कर दी है। देश की राजधानी दिल्ली में अगर शराब पी कर गाड़ी चलाते पकड़े गये तो ट्रैफिक पुलिस की सख्ती के लिए तैयार रहें दूसरी तरफ महाराष्ट्र, ओड़िशा सरीखे राज्यों ने रात में लॉकडाउन लगाने का ऐलान कर दिया है। नये साल में लोग एक जगह इकट्ठा ना हो बहुत भीड़ ना लगे इसके लिए सरकार पूरी कोशिश कर रही है।

महाराष्ट्र सरकार ने नये साल को देखते हुए लॉकडाउन का समय 31 जनवरी तक बढ़ा दिया गया है। होटल में किसी तरह की बड़ी पार्टी और बड़े जमावड़े पर भी रोक लगायी गयी है।

भारत में कोरोना के मामलों में उल्लेखनीय गिरावट आई है, लेकिन यूके में मिले म्यूटेंट कोरोना के स्ट्रेन के बाद भारत में चिंता बढ़ गई है। देश में इस स्ट्रेन के साथ 20 से ज्यादा मरीज भी मिल चुके हैं, ऐसे में नए साल के जश्न को देखते हुए केंद्र और राज्य सरकारें अलर्ट हैं। कई राज्यों में नए साल के सेलिब्रेशन को ध्यान में रखते हुए नाइट कर्फ्यू से लेकर लोगों की भीड़ इकट्ठा होने पर बैन लगाया गया है। देश के अधिकतर राज्यों ने कोरोनावायरस को देखते हुए गाइ़डलाइंस जारी की हैं।

क्या उठाए जा रहे हैं कदम

दिल्ली में गुरुवार को रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक का नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी ने घोषणा की है कि ’31 दिसंबर की रात 11 बजे से 1 जनवरी की सुबह 6 बजे तक किसी भी नए साल के जश्न, भीड़भाड़ वाले कार्यक्रम या फिर सार्वजनिक जगहों पर भीड़ इकट्ठा करने की अनुमति नहीं है।’ हालांकि, इस दौरान ट्रैफिक मूवमेंट पर कोई पाबंदी नहीं है।

इसी अवधि के लिए मुंबई में भी नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। बड़ी भीड़ इकट्ठा करने पर बैन है, लेकिन लोग अपने दोस्तों, परिवार, संबंधियों से मिलने जा सकते हैं। वहीं सार्वजनिक जगहों पर चार से ज्यादा लोग इकट्ठा नहीं हो सकते। मुंबई पुलिस ने कहा है कि फेस मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग अनिवार्य होगी। वहीं इस दिन ड्रोन्स से निगरानी की जाएगी।

बेंगलुरु में पुलिस कमिश्नर ने कहा है कि यहां गुरुवार दोपहर से ही भीड़भाड़ करने पर पाबंदी है।

चेन्नई में भी बड़ी संख्या में लोगों को इकट्ठे होने पर बैन है, खासकर बीच और सड़कों पर। मरीना बीच, एलियट्स बीच जैसे पॉपुलर स्पॉट्स को बंद कर दिया गया है। होटल और बार भी रात 10 बजे तक बंद हो जाएंगे। होटलों को विजिटर्स की पूरी डिटेल्स लेने को कहा गया है। पुडुचेरी ने बीचेज़ पर नियमित कानूनों के तहत सेलिब्रेशन को इजाज़त दी है।

चेन्नई में म्यूटेंट स्ट्रेन का एक मरीज मिला है। इसके अलावा बुधवार को राज्य में कोविड के कुल 945 नए केस दर्ज किए गए हैं, जिसके साथ राज्य में कुल एक्टिव मरीज 8,615 हो गए हैं। ऐसे में राज्य सरकार ने 10,000 पुलिस कर्मचारियों की तैनाती की है, ताकि प्रतिबंधों का उल्लंघन न हो।

बंगाल ने अनुशासित और शांतिपूर्ण जश्न की इजाज़त दी है और कहा है कि नाइट कर्फ्यू जैसे कठोर कदम उठाने की जरूरत महसूस नहीं हो रही है। राज्य के मुख्य सचिव ने कहा कि ‘नाइट कर्फ्यू जैसे कदम उठाने की जरूरत नहीं है, लेकिन नए साल के सेलिब्रेशन के लिए सावधानी से बीच का रास्ता अपना रहे हैं।’

चंडीगढ़ में भी कोई विशेष प्रतिबंध नहीं लगाए गए हैं। यहां पर डीजीपी ने कहा है कि नाइट कर्फ्यू की जरूरत नहीं है, लेकिन कोविड प्रोटोकॉल्स के पालन और होटलों के ओपनिंग और क्लोजिंग नियमों के पालन को ध्यान में रखना होगा।

पंजाब में नाइट कर्फ्यू रहेगा। यहां हर शहर में रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू रहेगा, जिसे 1 जनवरी के बाद हटा लिया जाएगा। होटल, रेस्टोरेंट, मैरिज हॉल वगैरह रात साढ़े नौ बजे बंद हो जाएंगे।

सोमवार को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्यों को सेलिब्रेशन को ध्यान में रखते हुए उचित कदम उठाने को कहा था। एक केंद्रीय अधिकारी ने राज्यों को चिट्ठी लिखकर कहा था कि यूरोप और अमेरिका में बढ़ते मामलों को देखते हुए हमें अभी भी प्रोटोकॉल्स और गाइ़डलाइंस का पालन करते रहना है।

बता दें कि गुरुवार सुबह तक पिछले 24 घंटों में देश में कोरोना के 21,822 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद अब तक कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,02,66,674 हो गई है। इन 24 घंटों में 26,139 मरीज ठीक हुए हैं और 299 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है। अब तक कुल 98,60,280 मरीज ठीक हो चुके हैं। 1,48,738 लोगों की जान गई है। कोरोना के मौजूदा मामलों की संख्या 3 लाख से नीचे है। इस समय देश में 2,57,656 एक्टिव केस हैं।

महाराष्ट्र :

पुलिसकर्मियों की छुट्टी रद्द, पार्टी आयोजन की इजाजत नहीं।मुंबई, पुणे समेत सभी बड़े शहरों में 31 दिसंबर की रात 11 बजे के बाद से किसी भी तरह की पार्टी करने पर रोक लगा दी गई है। राज्य सरकार पहले ही पूरे राज्य के शहरी इलाकों में 5 जनवरी तक नाइट कर्फ्यू (रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक) का ऐलान कर चुकी है। नए साल पर नियमों को कड़ाई से पालन करवाने के लिए मुंबई और पुणे में 31 दिसंबर की रात धारा 144 भी लागू कर दी गई है। मुंबई में सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टी रद्द कर पूरे शहर में 45 हजार पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।

छत्तीसगढ़ :

छोटे बच्चों और बुजुर्गों के पार्टी में आने पर रोक
रायपुर समेत कई शहरों में न्यू इयर के जश्न में रियायत दी गई है, लेकिन DJ नहीं बजा सकेंगे। रायपुर के बार, पब, शॉपिंग मॉल या रेस्टोरेंट्स के बार रात 11:00 बजे तक खुले रहेंगे। 3स्टार होटल के बार रात 12 बजे तक खुले रहेंगे। इवेंट्स स्पाॅट की वीडियोग्राफी करानी हाेगी। कोई भी कार्यक्रम पब्लिक प्लेस पर नहीं किया जाएगा। रात साढ़े 12 बजे तक कार्यक्रम खत्म कर दिए जाएंगे। रात 11:55 से 12:30 तक ग्रीन पटाखों का इस्तेमाल हो सकेगा। आयोजकों को पहले ही सोशल मीडिया पर इस बात की जानकारी पोस्ट करनी होगी कि लोग कार्यक्रम स्थल पर ज्यादा भीड़ ना लगाएं। आयोजक अगर इनमें से किसी भी बात का उल्लंघन करते हैं तो उनके खिलाफ केस होगा।

झारखंड :

बार-रेस्तरां में पार्टी बैन
न्यू इयर के जश्न के लिए रांची जिला प्रशासन की तरफ से विशेष गाइडलाइन जारी की गई है। होटल, बार और रेस्तरां पर पार्टी करने पर प्रतिबंध रहेगा। माॅनिटरिंग के लिए स्पेशल स्क्वाॅड गश्त करेगा। हर हाल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना करने की बात कही गई है। हॉल की क्षमता के मुताबिक, उससे आधा या अधिकतम 200 लोगों को ही हॉल में प्रवेश मिलेगा। एंट्री गेट पर मास्क, सैनिटाइजर और थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था अनिवार्य रूप से करनी होगी। होटल आने वाले सभी लोगों का ब्योरा रखना होगा।

मध्यप्रदेश :

हर शहर में अलग गाइडलाइन, भोपाल में रात 12.30 तक जश्न की इजाजत
MP में प्रशासन ने न्यू इयर नाइट के लिए छूट देने का अधिकार कलेक्टरों को सौंप रखा है। हर शहर के लिहाज से गाइडलाइन जारी की गई है। राजधानी भोपाल में रात 12.30 बजे तक जश्न मना सकेंगे, लेकिन ओपन स्पेस या गार्डन में 200 से ज्यादा लोग जुट नहीं हो सकेंगे। होटल, क्लब या पब भी 50% ही क्षमता से खुले रह पाएंगे। इंदौर समेत अन्य शहरों में बाहर से सेलिब्रिटी नहीं आ सकेंगे। जबलपुर में भी कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए नए साल का स्वागत किया जाएगा। इस दौरान DJ पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा। साउंड सिस्टम की आवाज भी आयोजन स्थल तक ही सीमित रखने के निर्देश हैं। कार्यक्रम मैनेजमेंट सुनिश्चित करेगा कि आमंत्रित किए गए लोग ही मौजूद हों।

राजस्थान :

घरों में ही मनेगा जश्न, जयपुर में कई जगह नाकाबंदी
कई टूरिस्ट स्पॉट और आलीशान होटलों के लिए मशहूर राजस्थान में अबकी बार न्यू इयर नाइट फीकी रहेगी। नाइट कर्फ्यू नहीं हटाने के फैसले के कारण 8 बजे ही सड़कें सूनी हो जाएंगी। ऐसे में लोगों को इस बार 2020 की विदाई और 2021 का स्वागत घर-मोहल्ले में ही करना पड़ेगा। बाहर से आकर होटलों में रुके कई पर्यटक लौट गए हैं। उन्होंने दूसरे राज्यों का रुख किया है। अकेले जयपुर में ही शाम 7 बजे से 120 जगहों पर और रात को 90 जगहों पर नाकाबंदी की जाएगी।

क्या नए साल में फिर रुलाएगा प्याज़ ?? जानिए क्या है सच्चाई…

एक जनवरी से प्याज के निर्यात पर लगी रोक को हटाने के बाद नासिक के लासलगाँव थोक मंडी में प्याज कीमतें दो दिनों में 28 प्रतिशत बढ़कर 2,500 रुपये प्रति क्विंटल हो गई हैं। सरकार ने सोमवार को प्याज की घटती कीमतों के कारण इसके सभी किस्मों पर एक जनवरी से निर्यात प्रतिबंध हटा दिया था। विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने एक अधिसूचना में कहा, ”प्याज की सभी किस्मों का निर्यात एक जनवरी 2021 से प्रतिबंधमुक्त कर दिया गया है।

लासलगांव एपीएमसी के सचिव नरेंद्र वद्धवाने ने कहा कि सोमवार को प्याज की कीमतें लासालगाँव थोक मंडी में औसतन 1,951 रुपये प्रति क्विंटल थीं और उसके बाद से मंडी में इस सब्जी की कीमत निरंतर बढ़ रही है। मंगलवार को, प्याज की कीमतें औसतन 2,400 रुपये प्रति क्विंटल रहीं और बुधवार को यह बढ़कर 2,500 रुपये क्विन्टल हो गई। इस प्रकार, पिछले दो दिनों में कीमत में लगभग 28 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

भारत सबसे बड़े प्याज निर्यातक देशों में से एक

इसी तरह, राष्ट्रीय राजधानी में प्याज की खुदरा कीमत में भी 25-42 प्रतिशत तक की वृद्धि देखी गई। सोमवार को प्याज की कीमत 35-40 रुपये प्रति किलो थी जो बुधवार को बढ़कर 50 रुपये प्रति किलो हो गई है। सितंबर में, सरकार ने कीमतों में तेजी के कारण और घरेलू बाजार में उपलब्धता बढ़ाने के लिए प्याज के निर्यात पर रोक लगा दी थी।वाणिज्य मंत्रालय का एक प्रभाग डीजीएफटी, निर्यात और आयात-संबंधित मुद्दों का कामकाज देखता है। महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और कर्नाटक देश के शीर्ष तीन प्याज उगाने वाले राज्य हैं। भारत सबसे बड़े प्याज निर्यातक देशों में से एक है। इसके निर्यात गंतव्यों में नेपाल और बांग्लादेश शामिल हैं।

Happy New Year 2021: नए साल से शुरू करें ये अच्छी आदतें, बने रहेंगे लंबे समय तक हेल्दी एंड हैप्पी

सर्दियों में सुबह उठना बेशक एक बड़ा और मुश्किल टास्क होता है लेकिन हेल्दी लाइफस्टाइल की शुरूआत का ये सबसे पहला और जरूरी स्टेप है ऐसा इसलिए क्योंकि जल्दी उठने पर आपके पास बहुत सारा वक्त होता है। घूमने-टहलने से लेकर समय पर ब्रेकफास्ट करने जैसे ढेरों काम निपटाए जा सकते हैं।

योग और व्यायाम करें

योग और व्यायाम को तो जरूर आपको अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए क्योंकि ये दूसरा जरूरी स्टेप है। सुबह उठने के बाद अगर आप किसी भी तरह का वर्कआउट करते हैं तो हवा शुद्ध रहती है जिसमें मेडिटेशन करना बहुत ही लाभदायक होता है। एक्सरसाइज़ न सिर्फ आपको पूरे दिन एक्टिव रखने का काम करता है बल्कि इससे आपका मूड भी फ्रेश रहता है।

भोजन संतुलित और पानी भरपूर मात्रा में पिएं

हेल्दी बने रहने के लिए भोजन में फल, सब्जियां, नट्स शामिल करने के साथ ही इनकी मात्रा का भी ध्यान रखें। हर वक्त खाने की आदत सेहत के लिए बिल्कुल भी सही नहीं। साथ ही भरपूर मात्रा में पानी पिएं। 6-8 गिलास पानी जरूर पिएं। इससे बॉडी हाइड्रेट रहने के साथ डिटॉक्सीफाई भी होती है।

खुद के लिए वक्त निकालें

काम से हटकर कुछ वक्त खुद के लिए भी निकालें, जिसमें अपने शौक पूरे करें, जैसे-घूमना-फिरना, स्केचिंग, पेंटिंग, डांसिंग, रीडिंग जैसी चीज़ें शामिल हों। शांत बैठना भी एक बहुत ही बेहतरीन एक्सरसाइज़ है जिससे दिमाग चुस्त-दुरुस्त रहता है।

भरपूर नींद लें

सुबह जल्दी उठने से रात को जल्दी नींद भी आएगी और व्यायाम की वजह से अच्छी नींद आएगी। इसलिए ये रूटीन अपनाना बहुत जरूरी है। कोशिश करें 7-8 घंटे की नींद पूरी हो जो आसानी से हो भी जाएगी।

तो इस छोटी पहल से आप लंबे समय तक हेल्दी और हैप्पी बने रह सकते हैं।

2021 के लिए पीएम मोदी का मंत्र; ‘दवाई भी और कड़ाई भी’, राजकोट को दी AIIMS की सौगात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से गुजरात के राजकोट में अखिल भारतीय आयुविज्ञान संस्थान (AIIMS) की आधारशिला रखी। इसके बाद उन्होंने उम्मीद जताई कि भारत में जल्द ही कोरोना वैक्सीन को मंजूरी मिलेगी और दुनिया का सबसे बड़ा टीका अभियान चलेगा। प्रधानमंत्री ने इस दौरान साल का नया मंत्र भी दिया। उन्होंने कहा,’पहले मैंने कहा था, दवाई नहीं तो ढिलाई नहीं, अब मैं कह रहा हूं कि दवाई भी और कड़ाई भी। साल 2021 का मंत्र दवाई भी और कड़ाई भी होगा।’

उन्होंने इश दौरान यह भी कहा कि साल 2020 में संक्रमण की निराशा थी, चिंताएं थी, चारों तरफ सवालिया निशान थे। लेकिन 2021 इलाज की आशा लेकर आ रहा है। वैक्सीन को लेकर भारत में हर जरूरी तैयारियां चल रही हैं। देश में कोरोना संक्रमण के नए मामलों की संख्या अब कम हो रही है। हम अगले साल दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण कार्यक्रम चलाने की तैयारी कर रहे हैं। भारत फ्यूचर ऑफ हेल्थ और हेल्थ ऑफ फ्यूचर दोनों में ही सबसे महत्त्वपूर्ण रोल निभाने जा रहा है। जहां दुनिया को मेडिकल प्रोफेशनल्‍स भी मिलेंगे, उनका सेवाभाव भी मिलेगा। यहां दुनिया को मास इम्यूनाइजेशन का अनुभव भी मिलेगा और विशेषज्ञता भी मिलेगी।

वर्ष 2020 ने हमें सिखाया ‘स्वास्थ्य ही संपदा है’

पीएम मोदी ने यह भी कहा कि ‘स्वास्थ्य ही संपदा है’, वर्ष 2020 ने हमें यह अच्छी तरह से सिखाया है। यह चुनौतियों से भरा वर्ष रहा है। नया साल दस्तक दे रहा है। आज देश के मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने वाली एक और कड़ी जुड़ रही है। राजकोट में एम्स के शिलान्यास से गुजरात सहित पूरे देश के स्वास्थ्य और मेडिकल एजुकेशन को बल मिलेगा।

स्वास्थ्य पर जब चोट होती है तो जीवन का हर पहलू बुरी तरह प्रभावित होता है

पीएम मोदी ने कहा कि साल 2020 को एक नई नेशनल हेल्थ फैसिलिटी के साथ विदाई देना, इस साल की चुनौती को भी बताता है और नए साल की प्राथमिकता को भी दर्शाता है। स्वास्थ्य पर जब चोट होती है तो जीवन का हर पहलू बुरी तरह प्रभावित होता है और सिर्फ परिवार नहीं पूरा सामाजिक दायरा उसकी चपेट में आ जाता है। इसलिए साल का ये अंतिम दिन भारत के लाखों डॉक्टर्स, हेल्थ वॉरियर्स, सफाई कर्मियों, दवा दुकानों में काम करने वाले, और दूसरे फ्रंट लाइन कोरोना वॉरियर्स को याद करने का है। कर्तव्य पथ पर जिन साथियों ने अपना जीवन दे दिया है, उन्हें मैं सादर नमन करता हूं।

भारत ने संकट का सामना प्रभावी तरीके से किया

पीएम मोदी ने कहा कि मुश्किल भरे इस साल ने दिखाया है कि भारत जब एकजुट होता है तो मुश्किल से मुश्किल संकट का सामना वो कितने प्रभावी तरीके से कर सकता है। भारत ने एकजुटता के साथ समय पर प्रभावी कदम उठाए, उसी का परिणाम है कि आज हम बहुत बेहतर स्थिति में हैं। जिस देश में 130 करोड़ से ज्यादा लोग हों, घनी आबादी हों। वहां करीब 1 करोड़ लोग इस बीमारी से लड़कर जीत चुके हैं।

वैक्सीन को लेकर अफावहों से बचने की जरूरत

पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश में, अफवाहें तेजी से फैलती हैं। अपने व्यक्तिगत लाभ के लिए या गैर-जिम्मेदार व्यवहार के कारण विभिन्न लोग विभिन्न अफवाहें फैलाते हैं। शायद टीकाकरण शुरू होने पर अफवाहें फैलाई जाएंगी, कुछ पहले ही शुरू हो चुकी हैं। मैं देश के लोगों से अपील करता हूं कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई एक अज्ञात दुश्मन के खिलाफ है। इस तरह की अफवाहों के बारे में सावधान रहें और जिम्मेदार नागरिक बिना चेक किए सोशल मीडिया पर मैसेज फॉरवर्ड करने से परहेज करें।

बीते 6 वर्षों में 10 नए एम्स बनाने पर काम हो चुका है

पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के इतने दशकों बाद भी सिर्फ 6 एम्स ही बन पाए थे। 2003 में अटल जी की सरकार ने 6 नए एम्स बनाने के लिए कदम उठाए थे। उन्हें बनाते बनाते 2012 आ गया था, यानी 9 साल लग गए थे। बीते 6 वर्षों में 10 नए एम्स बनाने पर काम हो चुका है, जिनमें से कई आज पूरी तरह काम शुरू कर चुके हैं।एम्स के साथ ही देश में 20 एम्स जैसे सुपर स्पैशिलिटी हॉल्पिटल्स पर भी काम किया जा रहा।

आयुष्मान भारत से गरीबों के लगभग 30 हजार करोड़ रुपये ज्यादा बचे

पीएम मोदी ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना से गरीबों के लगभग 30 हजार करोड़ रुपये ज्यादा बचे हैं। आप सोचिए, इस योजना ने गरीबों को कितनी बड़ी आर्थिक चिंता से मुक्त किया है। अनेकों गंभीर बीमारियों का इलाज गरीबों ने अच्छे अस्पतालों में मुफ्त कराया है। 2014 से पहले हमारा हेल्थ सेक्टर अलग अलग दिशा में, अलग अलग अप्रोच के साथ काम कर रहा था। प्राइमरी हेल्थ केयर का अपना अलग सिस्टम था, गांव में सुविधाएं न के बराबर थी।

चिकित्सा शिक्षा को बेहतर बनाने के लिए मिशन मोड पर काम कर रहे

पीएम मोदी ने कहा कि भारत में मातृ मृत्यु दर अतीत की तुलना में बहुत कम हो गई है। परिणाम पर ध्यान देना पर्याप्त नहीं है, कार्यान्वयन और प्रभाव दोनों समान रूप से महत्वपूर्ण हैं। व्यवहार प्रतिमानों में व्यापक बदलाव लाने के लिए, हमें प्रक्रिया में सुधार करना चाहिए। हमने हेल्थ सेक्टर में समग्र तरीके से काम शुरू किया। हमने जहां एक तरफ निवारक देखभाल पर बल दिया, वहीं इलाज की आधुनिक सुविधाओं को भी प्राथमिकता दी। हम भारत में चिकित्सा शिक्षा को बेहतर बनाने के लिए मिशन मोड पर काम कर रहे हैं। राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग के गठन के बाद स्वास्थ्य शिक्षा की गुणवत्ता और मात्रा में सुधार होगा।

गरीब का इलाज पर होने वाला खर्च कम किया

पीएम मोदी ने यह भी कहा कि साढ़े 3 लाख से ज्यादा गरीब मरीजों को हर रोज इन केंद्रों का लाभ मिल रहे है। सस्ती दवाओं की वजह से गरीबों के हर साल औसतन 3600 करोड़ रुपये खर्च होने से बच रहे हैं। हमने जहां गरीब का इलाज पर होने वाला खर्च कम किया। वहीं इस बात पर भी जोर दिया कि डॉक्टरों की संख्या में भी तेजी से वृद्धि हो। आज स्वास्थ्य को लेकर देशभर में एक सतर्कता आई है, गंभीरता आई है। शहरों के साथ ही दूर-दराज के गांवों में भी ये सतर्कता हम देख रहे हैं। पिछले छह वर्षों में, एमबीबीएस में 31,000 नई सीटें जोड़ी गई हैं, और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में 24,000 नई सीटें जोड़ी गई हैं। भारत स्वास्थ्य के क्षेत्र में जमीनी स्तर पर बदलाव की ओर बढ़ रहा है।

स्वास्थ्य सेवा में भारत की भूमिका को मजबूत करना होगा

पीएम मोदी ने यह भी कहा कि भारत वैश्विक स्वास्थ्य के तंत्रिका केंद्र के रूप में उभरा है। वर्ष 2021 में, हमें स्वास्थ्य सेवा में भारत की भूमिका को मजबूत करना होगा। भारत ने मांग के अनुसार अनुकूलन, विकास और विस्तार करने की अपनी क्षमता साबित की है। हम दुनिया के साथ आगे बढ़े, सामूहिक प्रयासों में मूल्य जोड़ा और बाकी सब चीजों से ऊपर मानवता की सेवा की।

एम्स के लिए संस्थान को 201 एकड़ से अधिक जगह आवंटित

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के अनुसार राजकोट में एम्स के लिए संस्थान को 201 एकड़ से अधिक जगह आवंटित की गई है और यह लगभग 1,195 करोड़ रुपये की लागत से बनेगा। संस्थान का निर्माण 2022 के मध्य तक पूरा होने की उम्मीद है। पीएमओ के अनुसार इस आधुनिक अस्पताल में 750 बिस्तर होंगे, जिनमें से 30 बिस्तर आयुष ब्लॉक में होंगे। इसमें एमबीबीएस पाठ्यक्रम के लिए 125 और नर्सिंग पाठ्यक्रम के लिए 60 सीटें होंगी।

BREAKING : घर में हुई चोरी तो… बुआ ने लगाया आरोप… भतीजी ने छलांग लगा कर ली आत्महत्या…

रायपुर। राजधानी में बुआ से विवाद के बाद उसकी 26 वर्षीय भतीजी ने दो मंजिला इमारत से कूदकर खुदखुशी कर ली है।

बता दे कि एकता चौक, खम्हारडीह निवासी 65 वर्षीय कांती निषाद ने थाना पहुँच अपनी भतीजी राधा निषाद पर तकरीबन 90 हज़ार मूल्य के सोने-चांदी के ज़ेवर सहित नगदी चोरी करने का आरोप लगाया था। कांती ने पुलिस को बताया था कि भतीजी राधा 3 माह से उसके घर में ही निवासरत थी। पुलिस ने चोरी की धारा में मामला दर्ज किया और मामले की जांच शुरू की।

मामले की जानकारी देते हुए खम्हारडीह थाना प्रभारी ममता शर्मा अली ने बताया कि कल बुधवार को थाना पहुँच पीड़ित कांती व आरोपी राधा ने काफी लंबे वक्त तक बातचीत की, बुआ कांती ने राधा से चोरी किये हुए गहनों को वापस करने की मांग की, जिस पर भतीजी राधा ने बुआ द्वारा इस मामले में जबरदस्ती फसाये जाने पर आत्महत्या कर लेने की भी धमकी दी गयी।

देर शाम तक दोनों के बीच बात नहीं बनी जिसके बाद राधा को पेट्रोलिंग पार्टी ने उसके घर डीडी नगर छोड़ा और पीड़ित कांती निषाद ने चोरी की रिपोर्ट दर्ज करवाई जिसके बाद पुलिस टीम को जानकारी प्राप्त हुई कि राधा ने घर पहुँचने के पश्चात दूसरी मंजिल से छलांग लगा खुदखुशी कर ली है।

थाना प्रभारी शर्मा ने कहा कि फिलहाल इस मामले की जांच की जा रही है। पीड़ित कांती ने अपनी भतीजी राधा पर ही चोरी करने का संदेह जताया है।

बड़ी खबर : रायपुर में मिली पेड़ पर लटकती बुजुर्ग की लाश… गुमशुदा रिपोर्ट है थाने में दर्ज…

राजधानी। रायपुर के पंडरी थाना क्षेत्र में पेड़ पर लटकती बुजुर्ग की लाश मिली है। बताया जा रहा है कि शव 20 से 25 दिन पुराना है।

इस मामले में पंडरी पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पीएम के लिए भेज दिया है। दरअसल ये घटना जब्बार नाला के पास की है। पुलिस जानकारी के अनुसार लाश सड़ी-गली हालत में है।

पुलिस ने बताया कि कि देर रात तिराहा के अंदर झाड़ियों में बबूल के पेड़ पर 50 से 55 वर्षीय एक बुजुर्ग की लाश पेड़ पर लटकी मिली है। लक्ष्मी नगर निवासी एक बुजुर्ग की महीने भर पहले गायब होने की गुमशुदा रिपोर्ट थाने में दर्ज है।

बुजुर्ग की लाश काफी पुराना है, डिकम्पोज हो गया है। संभावना है कि यह उसी का शव हो। हालांकि अभी क्लियर नहीं है। पहचान की कोशिश की जा रही है। शव का पोस्टमार्टम आज होगा।

BIG NEWS : राजधानी में साल के आखिरी रात पर… इधर पुलिस का सख्त पहरा… उधर चोरों ने उड़ा लिए लाखों रूपये…

रायपुर। राजधानी के बैजनाथपारा इलाके में एक सूने मकान को चोरों ने अपना निशाना बनाया। यहां रहने वाले असरफ दार नाम के एक शख्स के मकान का ताला तोड़कर घर में एक बैग में रखे 2 लाख 30 हजार की रकम ले उड़े।

मामले में कोतवाली पुलिस ने अज्ञात चोर के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध किया है। पुलिस ने बताया कि असरफ दार अपने परिवार के तीन अन्य लोगों के साथ बैजनाथ पारा स्थित एक किराये के मकान में रहता है। 14 तारीख को ही वह इस किराए के मकान में आया था। प्रार्थी और उसके साथ रहने वाले तीन अन्य लोग फेरी का काम करते हैं। यह मूलतः अनंतनाग जम्मू कश्मीर के रहने वाले है।

असरफ के साथ रहने वाला एक व्यक्ति फेरी के काम के बाद जब घर आया तो मकान का ताला टूटा हुआ था इसके बाद उसने तुरंत मकान मालिक और असरफ को इसकी सूचना दी। जब अंदर जाकर देखा गया तो बैग में रखे नगदी 2 लाख 30 हजार रुपए नहीं था। इसके बाद उसने थाने में शिकायत दी है। फिलहाल आरोपी फरार है। सीसीटीवी में उस गली से एक व्यक्ति आते दिखा है उसकी पतासाजी की जा रही है।

BIG NEWS : सीएम भूपेश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से की फ़ोन पर बात… पीएम ने दिया आश्वासन… की….

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज फोन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से चर्चा की। सीएम ने एफसीआई में छत्तीसगढ़ का चावल उपार्जन की अनुमति देने की मांग की।
पीएम मोदी ने मांग पर जल्द उपयुक्त कार्रवाई का आश्वासन दिया। बता दें कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल धान खरीदी को लेकर आ रही समस्याओं के निपटारे को लेकर पीएम से गुहार लगा रहे हैं। फोन पर चर्चा से पहले सीएम ने पीएम को पत्र लिखकर धान खरीदी की लेकर जरूरी अनुमति देने की अपील की थी।
दूसरी ओर आज भूपेश सरकार प्रदेश के किसान संगठन के साथ बैठक करने जा रही है। इस बैठक में धान खरीदी के मुद्दे को लेकर चर्चा होगी। इसके अलावा एफसीआई को चावल उपार्जन की अनुमति मामले पर बात होगी।

छत्तीसगढ़ : 99 पुलिसकर्मियों का हुआ प्रमोशन…राज्य सरकार ने जारी की सूची

छत्तीसगढ़। राज्य सरकार ने पुलिस विभाग में पदस्थ कई पुलिसकर्मियों को पदोन्नत किया है। प्रमोशन सूची में एसआई, एएसआई, प्रधान आरक्षक सहित कई पुलिसकर्मियों के नाम शामिल है।

देखें पूरी सूची

BIG BREAKING : आज रात 8 बजे से…नवा रायपुर में एंट्री बंद… पढ़िये क्या है वजह

कोरोना संक्रमण के खतरे की वजह से इस साल बुजुर्ग और बच्चे नए साल की पार्टी में शामिल नहीं हो सकेंगे। सार्वजनिक पार्टी में अगर बच्चे और बुजुर्ग मिले तो वहां का कार्यक्रम उसी समय बंद करवा दिया जाएगा। सभी होटलों और भवनों में आयोजित न्यू ईयर सेलिब्रेशन के लिए जारी गाइड लाइन में इस पर खास फोकस किया गया है। नए साल की पार्टी रात 12.30 बजे बंद करवा दी जाएगी।

राजधानी में 31 दिसंबर की रात होटल, क्लब से लेकर 60 से ज्यादा सोसायटी और कॉलोनियों में पार्टी का आयोजन किया जा रहा है। सोसायटी और कॉलोनियों को छोड़कर बाकी जगह बच्चे और बुजुर्गों की एंट्री पर प्रतिबंध लगाया गया है। इसकी जांच के लिए पुलिस की टीम हर घंटे आयोजन स्थल की जांच करेगी। पार्टी का आयोजन करने वाले आयोजकाें को साफ चेतावनी दी गई है कि होटल, क्लब, रेस्टारेंट या माॅल की पार्टी में अगर बच्चे या बुजुर्ग मिले तो कार्यक्रम उसी समय बंद करवा दिया जाएगा। इतना ही नहीं आयोजकों के खिलाफ आदेश उल्लंघन करने के आरोप में केस दर्ज किया जाएगा। आयोजन स्थल में मास्क के बिना भी प्रवेश बैन कर दिया गया है।
सेनिटाइजर का इंतजाम भी करने के निर्देश दिए गए हैं। कार्यक्रम में एंट्री देने के पहले एक-एक की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। बॉडी का टेंप्रेचर नार्मल होने पर ही प्रवेश की अनुमति मिलेगी। पार्टी में शामिल होने के पहले इन नियमों का पालन किया जा रहा है या नहीं? इसकी मॉनीटरिंग भी पुलिस करेगी।

इसके लिए हर थाने में जांच और छापा मारने के लिए पुलिस की 2-2 टीम बनाई गई। एएसपी और सीएसपी की अलग से टीम होगी। उनके साथ 10-10 जवान होंगे। शहर की सुरक्षा व्यवस्था को 8 सेक्टर में बांटा गया। प्रत्येक सेक्टर का प्रभारी राजपत्रित अधिकारियों को बनाया गया है। पुलिस का दावा है कि रात 12.30 बजते ही कार्यक्रम को बंद करा दिया जाएगा।
एएसपी लखन पटले ने बताया कि गुरुवार रात 8 बजे से शहर के चौक-चौराहों पर पुलिस की जांच शुरू कर दी जाएगी। आने-जाने वाले सभी को रोका जाएगा और उनकी गाड़ियों की जांच होगी। रात 2 बजे तक जांच चलेगी। शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। तीन सवारी चलने वालों की गाड़ियां जब्त की जाएगी।

पहले दिखाना होगा पास
31 दिसंबर की रात नवा रायपुर में घूमने पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया गया है। वहां आयोजित नए साल की पार्टी में लोग आ जा सकते हैं, लेकिन उन्हें पास दिखाना होगा। पुलिस ने वहां रहने वालों को प्रवेश की छूट दी है, लेकिन उन्हें अपना पता ठिकाना बताने के साथ मोबाइल नंबर भी एंट्री करवाना होगा। किसी को भी बिना कारण जाने नहीं दिया जाएगा।

BREAKING : इस जरूरी काम के लिए… भारत सरकार ने दी है… 10 जनवरी तक मोहलत

आईटीआर फाइल करने की अंतिम तारीख एक बार फिर बढ़ा दी गई है। अब आप 10 जनवरी 2021 तक आईटीआर फाइल कर सकते हैं। पहले इसकी अंतिम तारीख 31 दिसंबर 2020 थी। अब अगर आप 10 जनवरी तक आईटीआर फाइल नहीं करते हैं तो फिर उसके बाद आपको जुर्माना भरना पड़ सकता है।
अब आप वित्त वर्ष 2019-20 (आकलन वर्ष 2020-21) के लिए 10 जनवरी 2021 तक आईटीआर दाखिल कर पाएंगे। आयकर विभाग ने बुधवार को बताया कि ‘विवाद से विश्वास’ स्कीम के तहत डिक्लेरिएशन के लिए अंतिम तारीख बढ़ाकर 31 जनवरी 2021 कर दी गई है। जबकि वित्त वर्ष (2019-20) के लिए कंपनियों को आयकर रिटर्न फाइल की अंतिम तारीख बढ़ाकर 15 फरवरी 2021 कर दी गई है।

दरअसल आयकर विभाग ने कोरोना संकट को देखते हुए लोगों को 10 दिन की मोहलत दी है। पहले इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइल करने का लास्ट डेट 31 दिसंबर 2020 था। आयकर विभाग के मुताबिक 28 दिसंबर तक कुल 4.37 करोड़ आईटीआर दाखिल किए गए। जबकि केवल 29 दिसंबर को शाम 6 बजे तक 10 लाख 64 हजार से ज्यादा ITR दाखिए हुए।
केंद्र सरकार की कोशिश रही है कि टैक्स कलेक्शन को बढ़ाया जाए। इसके लिए आईटीआर फाइल करने की प्रक्रिया को लगातार आसान बनाया जा रहा है। इस बार भी लोगों से कहा जा रहा है कि आप भी घर बैठे पर आसानी से आईटीआर फाइल कर सकते हैं। आयकर विभाग लगातार आगाह कह रहा है कि आईटीआर फाइल करने के लिए अंतिम तारीख का इंतजार न करें।

BIG ALERT : कोरोना के नए स्ट्रेन पर… एम्स डायरेक्टर डॉ. गुलेरिया का…सामने आया बड़ा बयान

ब्रिटेन से शुरू हुआ कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन अब भारत में दस्तक दे चुका है। देश में अब तक दो दर्जन के करीब ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनमें कोरोना के नए स्ट्रेन के लक्षण हैं। नए स्ट्रेन को 70 फीसदी ज्यादा संक्रमणकारी बताया जा रहा है। इससे सरकार की भी टेंशन बढ़ गई है। वहीं, लोग भी बचाव और एहतियात के बारे में जानना चाह रहे हैं।

कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन को लेकर एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा कि pre-epidemiological data से पता चलता है कि कोरोना वायरस ने कई जगहों पर अपने रूप बदल लिए हैं। ब्रिटेन के नए कोरोना स्ट्रेन को लेकर सबसे बड़ी चिंता की बात ये है कि यह ज्यादा संक्रमणकारी है और तेजी से फैलता है।
एम्स निदेशक ने कहा कि ऐसा संभव है कि ब्रिटेन का नया स्ट्रेन भारत में नवंबर या फिर दिसंबर की शुरुआत में ही आ गया हो, लेकिन भारत में पिछले कुछ हफ्ते के दौरान कोरोना के मामलों में ज्यादा इजाफा नहीं हुआ है। अगर ब्रिटेन का कोरोना स्ट्रेन भारत में आ भी चुका है तो ये हमारे कोरोना के मामले और hospitalization पर असर डाल सकता है। ऐसे में हमें अब ज्यादा सावधानी रखने की जरूरत है ताकि इसे और फैलने से रोका जा सके.

पूर्व ब्लॉक शिक्षा अधिकारी सीताराम नामदेव का लम्बी बीमारी से निधन…

विवेक माणिक मुंगेली- आज पूर्व ब्लॉक शिक्षा अधिकारी सीताराम नामदेव का लंबी बीमारी से 90 साल की उम्र में निधन हो गया है ,जिनका अंतिम संस्कार मुंगेली के मारवाड़ी मुक्ति धाम में दोपहर 1 बजे किया जाएगा…
वह राजेन्द्र नामदेव,बृजेन्द्र नामदेव,सुरेंद्र नामदेव,राजू नामदेव के पिता थे बिट्टू नामदेव के दादा।

BREAKING : राजधानी में आज और कल… रहेगी जोरदार सख्ती…नाईट कर्फ्यू की घोषणा

राजधानी दिल्ली में आज और कल नाइट कर्फ्यू रहेगा। 31 दिसंबर की रात 11 बजे से 1 जनवरी की सुबह 6 बजे तक और फिर 1 जनवरी की रात 11 बजे से 2 जनवरी की सुबह 6 बजे तक ये पाबंदी रहेगी।

बेंगलुरु में धारा 144 लगा दी गई है। किसी भी तरह के डीजे इवेंट पर बैन है। शहर के बड़े फ्लाइओवर्स को रात को बंद किया जाएगा। किसी भी सार्वजनिक स्थान पर जश्न मनाने की इजाजत नहीं है। किसी होटल या पब में जाने के लिए बुकिंग कूपन दिखाना जरूरी है।

केरल सरकार ने नए साल पर किसी भी तरह की गैदरिंग पर पाबंदी लगाई है। सभी जश्न को रात दस बजे तक खत्म करने का आदेश दिया है।

ओडिशा में 31 दिसंबर, 1 जनवरी को किसी होटल, रेस्तरां, पब या क्लब में नए साल के जश्न पर रोक लगी दी गई है।

देश की राजधानी दिल्ली में नए साल को लेकर काफी सख्ती बरती जा रही है, कोरोना संकट और सुरक्षा के मद्देनजर दिल्ली में पुलिस के साथ-साथ पैरामिलिट्री फोर्स भी तैनात है। पुलिस की नजर बार, पब और रेस्तरां पर है। दिल्ली में किसी भी व्यक्ति का ब्लड टेस्ट कराया जा सकता है, इस दौरान 15 हजार पुलिस वाले ड्यूटी पर रहेंगे।

दिल्ली के कनॉट प्लेस इलाके में किसी वाहन को बिना पास इजाजत नहीं है। दिल्ली मेट्रो के राजीव चौक स्टेशन से रात 9 बजे के बाद एग्जिट बंद रहेगी।
कोरोना गाइडलाइन को तोड़ने पर पुलिस सख्त एक्शन लेगी।
दिल्ली-एनसीआर में नए साल के जश्न में पटाखे जलाने पर रोक जारी।

मुंबई में भी कोरोना संकट के चलते नए साल के जश्न में कुछ रुकावट पैदा हुई हैं। मुंबई में शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों का इस बार ब्लड टेस्ट किया जाएगा। अगर पॉजिटिव निकले तो वाहन जब्त होगा। होटल, रेस्तरां, पब और बार सिर्फ रात 11 बजे तक ही खुले रहेंगे। सार्वजनिक स्थानों पर पांच से अधिक लोग एक साथ नहीं खड़े हो सकते।