ब्रेकिंग : एक लाख की ईनामी सहित दो महिला नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण, चार माह में 28 ईनामी सहित कुल इतने माओवादियों ने आत्मसमर्पण…

दंतेवाड़ा। नक्सलियों की खोखली विचारधारा से तंग आकर और छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास योजना से प्रभावित होकर समाज की मदद से विकास में सहयोग करने की इच्छा व्यक्त करते हुए आत्मसमर्पण करने वाली नक्सलियों में सीएनएम कमांडर मुडे मुचाकी पर एक लाख रुपए का इनाम था, तो दूसरी सीएनएम सदस्य सुनीता थी। दोनों ने दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव व सीआरपीएफ अधिकारी डब्ल्यूआर जोसुआ के सामने समर्पण किया।

विगत चार माह में ‘लोन वर्राटू अभियान के तहत 28 ईनामी माओवादी सहित कुल 110 माओवादियों ने आत्मसमर्पण कर मुख्य धारा से जुड़ चुके हैं। आत्मसमर्पण के दौरान सीआरपीएफ 230 वाहिनी द्वितीय कमाण्ड अधिकारी चंद्रशेखर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा राजेद्र जायसवाल, पुलिस अनुविभागीय अधिकारी किरंदुल देवांश सिंह राठौर, थाना प्रभारी भांसी खोमन भंडारी और अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।
दरअसल ‘लोन वर्राटू घर वापस आया अभियान से प्रभावित होकर होकर एक ईनामी सहित दो महिला माओवादियों ने नरेला सीआरपीएफ कैम्प में दन्तेवाड़ा पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया। दोनों महिला नक्सली भैरमगढ़ एरिया कमेटी में सक्रिय थीं।

जम्मू कश्मीर : बाईपास के पास सीआरपीएफ पार्टी पर किया हमला, दो की मौत…

जम्मू कश्मीर। आज आतंकियों ने सीआरपीएफ की रोड ओपनिंग पार्टी(आरओपी) पर हमला कर दिया जिसमें दो जवान घायल हो गए और इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई।

जानकारी के अनुसार सोमवार दिन में आतंकियों ने पंपोर के बाहरी इलाके से सटे तंगन बाईपास पर आरओपी की 110वीं बटालियन पर हमला किया था। इस हमले में दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गए थे। जिन्हें अस्पताल ले जाया गया लेकिन चोट अधिक लगने से उनकी मौत हो गई।

बड़ी खबर : दुर्गापूजा के पहले दिल्‍ली को दहलाने की साजिश नाकाम, चार आतंकी गिरफ्तार, बड़ा धमाका करने की थी योजना

नई दिल्ली। दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल को एक बड़ी सफलता मिली है। स्‍पेशल सेल के जवानों की मुस्‍तैदी ने दुर्गापूजा के पहले दिल्‍ली को दहलाने की साजिश नाकाम कर दिया है। स्‍पेशल सेल ने चार आतंकियों को गिरफ्तार किया है। ये सभी आतंकी गजावत उल हिंद से ताल्‍लुक रख रहे हैं।

मिली जानकारी के अनुसार हाल में ही अलकायदा ने इस संगठन को बनाया है। ये सभी आतंकी 29 सितंबर को दिल्‍ली आए थे। यहां आकर उन्‍होंने हथियार और कारतूस जुटाया। इनकी योजना के खुलासे के बाद से दिल्‍ली पुलिस सहित कई सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं। दिल्‍ली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ये देश की राजधानी में आतंकी हमले की फिराक में थे। चारों के पास से चार पिस्‍टल, 120 कारतूस बरामद किए गए हैं। यह अलकायदा का नया संगठन है। चारों जम्मू-कश्मीर के रहने वाले हैं। इनकी योजना दिल्ली में आतंकी हमले को अंजाम देने की थी। हमले के लिए इन्होंने दिल्ली में हथियार व कारतूस जुटा लिए थे, लेकिन त्योहार से पूर्व सक्रिए स्पेशल सेल की टीम ने पुराना पुलिस मुख्यालय से कुछ दूरी पर चारों को दबोच आतंकी हमले की इनकी बड़ी योजना को विफल कर दिया। चारों को कोर्ट में पेश कर पूछताछ के लिए रिमांड पर लिया गया है।