दंतेवाड़ा में नक्सली और जवानों के बीच मुठभेड़, एक नक्सली गिरफ्तार

दंतेवाड़ा। जिला में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच शनिवार सुबह से मुठभेड़ हो गया है। बताया जा रहा है कि इस दौरान जवानों ने एक नक्सली को भी गिरफ्तार कर लिया है। जवान अभी भी जंगल में ही डटे हुए हैं। मुठभेड़ कटेकल्याण क्षेत्र के जंगलों में बताई जा रही है। इस बात की पुष्टि दंतेवाड़ा एसपी ने दी है।

दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव ने जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार सुबह DRG के जवान संयुक्त रूप से गश्त पर निकले थे तभी जियाकोडता इलाके में नक्लियों ने फायरिंग करना शुरू कर दी। मुठभेड़ के दौरान एक नक्सली गिरफ्तार किया है।

BIG NEWS : अबूझमाड़ में सर्चिंग पर निकली जवानों की टीम पर… घात लगाए नक्सलियों ने की फायरिंग… दो जवान शहीद

नारायणपुर। प्रदेश के वनांचल क्षेत्र नारायणपुर से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। खबर है कि आज हुई घटनाओं में दो जवान शहीद हो गए और एक जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। घायल जवान को उपचार के लिए रायपुर रेफर किया गया है। जवानों के शहीद होने की पुष्टि एएसपी नीरज चंद्राकर ने की है।

मिली जानकारी के अनुसार जिला बल, डीआरजी और आईटीबीपी के जवानों की टीम सर्चिंग के लिए सुबह अबूझमाड़ के काकुर इलाके में निकली हुई थी। इसी दौरान जंगल में घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने जवानों पर फायरिंग कर दी, जिसमें एक जवान शहीद हो गया। वहीं, सोनपुर मार्ग पर हुए आईईडी ब्लास्ट में एक अन्य जवान शहीद हो गए।

CG बड़ी ख़बर : महिला समेत 3 नक्सली गिरफ्तार, बीजापुर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी सफलता

बीजापुर। जिले के डीआरजी और सीआरपीएफ 85 बटालियन जवानों को मंगलवार को बड़ी सफलता हाथ लगी है। जवानों ने एक महिला सहित तीन नक्सलियों को धर दबोचा है। जवानों ने तीनों नक्सलियों को अलग-अलग थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार नक्सलियों के खिलाफ अलग-अलग थानों में लूट,डकैती,आगजनी सहित अन्य घटनाओं में शामिल होने का आरोप है।

मिली जानकारी के अनुसार डीआरजी और सीआरपीएफ 85 बटालियन के जवानों की टीम इलाके की सर्चिंग के लिए निकली थी। इसी दौरान जवानों ने गंगालूर, उसूर, तररेम थाना क्षेत्रों से एक महिला सहित तीन नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। बताया गया कि गिरफ्तार नक्सली जवानों को देखकर बाइक में भागने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन जवानों ने पीछा कर उन्हें धर दबोचा।

बड़ी ख़बर : एक नक्सली गिरफ्तार…CRPF पार्टी पर किया था हमला

बीजापुर जिले में पुलिस पार्टी पर हमला करने की घटना में शामिल 1 जन मिलिशिया सदस्य को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जिले में माओवादियों के विरूद्ध चलाए जा रहे अभियान के तहत 17 फरवरी को थाना कोतवाली एवं केरिपु 85,153 की संयुक्त टीम चेरपाल, पदेडा, संतोषपुर की ओर निकली थी।

सर्चिंग अभियान के दौरान संयुक्त पार्टी ने पदेड़ा-चेरपाल के जंगलों से जन मिलिशया सदस्य राजू माड़वी उम्र 32 वर्ष निवासी पदेड़ा हिरोलीपारा थाना बीजापुर को पकड़ा है। पकड़ा गया माओवादी थाना बीजापुर अन्तर्गत 12 जून 2007 को पोंजेर नाला के पास पुलिस पार्टी पर हमला करने, पेदाकोरमा की पहाड़ियों में पुलिस पार्टी पर फायरिंग करने के अलावा 30 जुलाई 2007 को चेरपाल मशीनरी कैम्प पर फायरिंग करने की घटना में शामिल रहा है। पकड़े गए माओवादी के विरूद्ध बीजापुर थाना में 3 स्थाई वारंट भी लंबित है। कार्रवाई कर नक्सली को न्यायालय में पेश किया गया।

छत्तीसगढ़ बॉर्डर से लगे जंगल में पुलिस और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़… 2 नक्सली ढ़ेर…


छत्तीसगढ़ से लगे मंडला के नजदीक पुलिस नक्सलियों में मुठभेड़ हुई है। मुठभेड़ में पुलिस ने 1 महिला और 1 पुरुष नक्सली को ढेर कर दिया है। मंडला के मोतीनाला थाना क्षेत्र के जंगल में ये मुठभेड़ हुई है। मौके से 3 बंदूक, वॉकी टॉकी और कुछ अन्य नक्सली सामग्री भी बरामद की गई है। हॉक फोर्स की टीम जंगल में जोर-शोर से सर्चिंग अभियान चला रही है। पुलिस अधीक्षक ने मुठभेड़ की पुष्टि की है।

बैलाडीला की तराई में डीआरजी के जवान और नक्सलियों के बीच मुठभेड़… एक ढेर

दंतेवाड़ा। बैलाडीला की तराई में शुक्रवार को डीआरजी के जवान और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई। इसमें एक नक्सली के मारे जाने और अन्य को गोली लगने की सूचना आ रही है। मुठभेड़ की पुष्टि करते एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव ने बताया की बैलाडीला पहाड़ के नीचे बीजापुर सरहद इलाके में नक्सलियों की मौजूदगी की सूचना पर डीआरजी की टीम निकली थी। करीब 10:30 से 11:00 बजे नक्सलियों ने फोर्स पर फायरिंग की।

जवाबी कार्रवाई में नक्सलियों को गोली लगी है और खून के धब्बे देखे जा रहे हैं। जंगल से आ रही सूचना के अनुसार एक नक्सली मारा गया है। जबकि मुठभेड़ समाप्त होने पर बीजापुर के डोडी तुमनार के जंगल में सर्चिंग के दौरान जंगल में एक नक्सली घायल हालत में मिला है।

बताया जा रहा है कि नक्सलियों के कब्जे से बड़ी मात्रा में नक्सली सामग्री बरामद हुई है। जवानों के वापसी पर विस्तृत जानकारी मिल पाएगी। फिलहाल किरंदुल- बचेली से सपोर्टिंग पार्टी भेजी गई है।

छत्तीसगढ़ में सफल हो रहा है ‘Lon Varratu’ अभियान, 2 महिलाओं सहित 13 नक्सलियों ने किया सरेंडर

छत्तीसगढ़। राज्य सरकार द्वारा चलाए गए लोन वरार्टू (Lon Varratu) यानी की घर वापसी अभियान के तहत लगातार नक्सली सरेंडर कर रहे हैं। नक्सलियों को मुख्य धारा में लाने के मकसद से ही प्रशासन ने वर्ष 2020 में इस अभियान को शुरू किया था। इस अभियान के तहत अब राज्य में 13 नक्सलियों ने सरेंडर किया है। इन 13 लोगों में से 3 पर ईनामी राशि का एलान किया था। दंतेवाड़ा में नक्सलियों द्वारा यह सरेंडर किया गया। पुलिस द्वारा जारी किए बयान के मुताबिक, 13 लोगों में 11 पुरुष और 2 महिलाएं हैं। कल दंतेवाड़ा पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव के सामने सभी ने सरेंडर किया।

पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने बताया कि जून 2020 में इस अभियान को शुरू किया था। उन्होंने बताया कि पिछले आठ महीनों में310 नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया है, जिनमें से 77 नक्सली पर ईनामी राशि का एलान किया गया था। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन अभियान के तहत सरेंडर करने वाले लोगों को पुनर्वास सहायता राशि के रूप में 10,000 रुपये की राशि प्रदान करेगा।

बता दें कि घर वापसी अभियान के तहत नक्सलियों को सरेंडर करने का मौका दिया जा रहा है। नक्सल इन्फ दंतेवाड़ा जिले की पुलिस ने नक्सलियों को हथियार छोड़ने के मुख्य धारा में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए उनके गांवों में डाक और बैनर भी लगाए हैं। पुलिस ने नक्सलियों को कहा हुआ है कि वे हथियार छोड़कर वापस गांव लौट आएंगे।

वहीं इन पोस्टरों में वरिष्ठ अधिकारियों का फोन नंबर भी दिया गया है जिससे माध्यम से नक्सली संपर्क कर सकते हैं। दंतेवाड़ा जिले के पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने बताया कि क्षेत्र मेंलोन वरार्टू नाम से एक अभियान चला है। ‘लोन वरार्टू स्थानीय गोंडी बोली का शब्द है और इसका अर्थ होता है अपने गांव लौट आना।

VIDEO : नक्सलियों दिया आगजनी की घटना को अंजाम… रेलवे के निर्माण कार्यों में लगी गाड़ियों को किया आग के हवाले… देखिये वीडियो…

दंतेवाड़ा। जिले के भांसी थाना क्षेत्र में देर शाम नक्सलियों ने एक बार फिर आगजनी की घटना को अंजाम दिया है. निर्माण कार्य में लगे चार वाहनों को आग के हवाले कर दिया है.

दरअसल रेलवे दोहरीकरण में ठेकेदार की गाड़ियां देर शाम तक बिना सुरक्षा के लगी हुई थी, जहाँ नक्सलियों ने आकर गाड़ियों के डीजल टैंक को फोड़कर 4 गाड़ियों में आगजनी कर दी है. जिसमें 1 पोकलेन मशीन, 1 जेसीबी मशीन और 2 टिप्पर है. घटना की पुष्टी एसपी अभिषेक पल्लव ने की है.
बता दें कि साल भर बाद लंबी खामोशी नक्सलियों ने तोड़कर दहशत फैलाने का काम किया है. घटना के पीछे नक्सलियों की भैरमगढ़ एरिया कमेटी का हाथ बताया जा रहा है.

देखिए वीडियो;