जब रेल्वे ट्रैक पर सुसाइड करने पहुंची युवती… रायपुर पुलिस ने ऐसे बचाई जान… फिर जो हुआ…

रायपुर। राजधानी रायपुर में डायल 112 की टीम ने रविवार को एक युवती की जान बचाई है। मिली जानकारी के अनुसार एक युवती घरेलू विवाद कर मोवा ओवरब्रिज के नीचे पटरी में सुसाइड करने की मंशा से गई थी।
जिसकी जानकारी पंडरी के पास ड्यूटी में तैनात टाइगर टू (डायल 112) आरक्षक मुकेश सिह राजपूत 2220 को मिली। उसके बाद वह तत्काल ही अपने चालक साथी करण वर्मा के साथ मौके पर पहुँच बड़ी ही सूझबूझ से युवती को ना सिर्फ आत्महत्या करने से रोका। इसके साथ समझा बुझाकर उसे संबंधित थाना क्षेत्र में पहुँच उनके परिजनों से युवती की सुलह भी कराई। जिससे युवती के परिजनों ने टाइगर टू आरक्षक मुकेश सिंह को नम आंखों से धन्यवाद ज्ञापित किया। इस पूरे वाकिये को जिसने भी देखा सभी ने छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा संचालित डायल 112 के सेवा की जमकर तारीफ की।

‘TERROR AT AMBANI HOUSE’ : आतंकी संगठन ने ली अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक रखने की जिम्मेदारी, ये है डिमांड


मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक रखने वाले का पता चल गया है। अंबानी को धमकी देने वाला और कोई नहीं बल्कि आतंकी संगठन जैश-उल-हिंद है। आतंकी संगठन जैश-उल-हिंद ने अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक रखने की जिम्मेदारी ली है। साथ ही ये भी कहा है कि बिग पिक्चर आना अभी बाकी है। आतंकी संगठन ने एक टेलीग्राम संदेश में एंटीलिया के घर के बाहर एसयूपी में विस्फोटक रखने की बात स्वीकारी है। साथ ही ये भी कहा है कि यदि अंबानी ने उनके डिमांड जो कि काफी पैसा है नहीं दिया तो अगली बार विस्फोटक नहीं बल्कि उनके बेटे की कार को निशाना बनाया जाएगा। ‘TERROR AT AMBANI HOUSE’ के टाइटल वाले मेसेज में आतंकवादियों ने लिखा है कि आप जानते हैं कि क्या करना है। जो पैसे आपसे देने के लिए कहे गए हैं वह ट्रांसफर करें और अपने ‘फैट किड्स’ के साथ खुशी से रहें। बता दें कि जैश-उल-हिंद संगठन ने ही दिल्ली में इजराइल दूतावास पर हमले की जिम्मेदारी ली थी।
इससे पहले अंबानी के घर के बाहर एसयूवी में भारी मात्रा में विस्फोटक मिला था साथ ही में एक संदेश भी दिया गया था। जिसमे लिखा था, ‘मुकेश भैया ऐंड नीता भाभी, ये तो ट्रेलर था। पूरी पिक्चर अभी बाकी है। हमारी तैयारी पूरी हो चुकी है। मामले में एनआईए और मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच जांच में लगी हैं

BIG BREAKING : प्रदेश के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों को मिली पदोन्नति… देखिये आदेश

रायपुर। राज्य सरकार ने 2008 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों को संयुक्त सचिव से विशेष सचिव बनाये गए है.

जो इस प्रकार है-

वैदिक मंत्रोच्चार और शहनाई की मंगल ध्वनि के बीच 3,229 जोड़े बंधे परिणय-सूत्र में… मुख्यमंत्री बघेल ने सभी नव-दम्पत्तियों को दिया आशीर्वाद…

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज राजधानी रायपुर के बलबीर सिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम परिसर में आयोजित मुख्यमंत्री कन्या विवाह समारोह में शामिल हुए। शहनाई की मंगल ध्वनि और वैदिक मंत्रोच्चार के बीच 3 हजार 229 जोड़े परिणय-सूत्र में बंधे। मुख्यमंत्री बघेल ने सभी नव-दम्पत्तियों को आशीर्वाद और उनके सुखमय जीवन के लिए शुभकामनाएं दी। छत्तीसगढ़ में पहली बार 22 जिलों में एक साथ इस योजना के अंतर्गत सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन किया गया, सभी जिले राजधानी रायपुर में आयोजित समारोह से वीडियो कॉन्फ्रंेसिंग के माध्यम से जुड़े। मुख्यमंत्री बघेल ने विभिन्न जिले के नवविवाहित जोड़ो से बातचीत कर उन्हें आशीर्वाद प्रदान किया।

रायपुर के समारोह में 233 जोड़ों का विवाह सम्पन्न कराया गया। इनमें से तीन क्रिश्चयन और एक मुस्लिम जोड़े का विवाह उनके धार्मिक रीति-रिवाजों के अनुसार कराया गया। समारोह में मुख्यमंत्री ने प्रतीकात्मक रूप से पांच जोड़ों को उपहार सामग्री और एक हजार रूपए का चेक प्रदान किया। इस अवसर पर कई जोड़ों ने मुख्यमंत्री के साथ सेल्फी लेकर अपने विवाह को यादगार बना लिया। मुख्यमंत्री ने सामूहिक विवाह में वर-वधुओं को बर्तन प्रदान करने के लिए रायपुर के कमलेश चोपड़ा और हाथ घड़ी प्रदान करने के लिए अंकित गांधी को जनसहयोग हेतु प्रतीक चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा 22 जिलों में एक साथ तीन हजार 229 जोड़ों के सामूहिक विवाह के आयोजन को गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज किया गया। इसकी घोषणा मंच पर गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड की ओर से सोनल राजेश शर्मा ने की।

इस अवसर पर राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंड़िया, ससदीय सचिव रश्मि आशीष सिंह, छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक, विधायक धरसींवा अनिता योगेन्द्र शर्मा, विधायक एवं छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष कुलदीप जुनेजा, महापौर एजाज ढेबर, छत्तीसगढ़ खनिज विकास निगम के अध्यक्ष गिरीश देवांगन और राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल उपस्थित थे। कोण्डागांव के समारोह में राज्यसभा सांसद फूलोदेवी नेताम और विधायक मोहन मरकाम भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री बघेल ने नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद देते हुए कहा कि माघी पुन्नी के शुभ अवसर पर वर-वधु विवाह बंधन में बंध रहे हैं। यह हमारा सौभाग्य है कि एक साथ बराती और घराती दोनों बनने का अवसर मिला है। कन्यादान से बड़ा पुण्य और कोई नही है। माघी पुन्नी के दिन इसका महत्व और बढ़ गया है। बघेल ने कहा कि वर्तमान समय में शादियों में होने वाले फिजूल खर्ची से लोग उकता चुके हैं। इसमें समय के साथ साधन का भी बहुत अपव्यय होता है। सामूहिक विवाह में शामिल होकर माता-पिता के साथ वर-वधुओं ने नया कदम उठाया है, इसके लिए मैं उन्हें बधाई देता हूॅ। अब राज्य सरकार के साथ कई समाज में सामूहिक विवाह का आयोजन किया जा रहा है, जो एक सराहनीय कदम है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह के तहत पहले 15 हजार रूपए का प्रावधान था, जिसे बढ़ाकर हमने 25 हजार रूपए कर दिया। अब कई जाति, धर्म के लोग सहित बड़ी संख्या में आदिवासी लोग भी सामूहिक विवाह में शामिल होने लगे हैं। श्री बघेल ने कहा कि विवाह में विवाहित जोड़े सात वचनों और साथ निभाने का वचन लेते हैं। मैं भी जिंदगी भर अपने परिवार के लोगों के स्वास्थ्य का ध्यान देने का वचन वर-वधुओं विशेषकर वर से लेना चाहता हूॅ। वर पत्नी के साथ पूरे परिवार के सुपोषण का ध्यान रखे, क्योंकि माता के स्वस्थ होने से आने वाली पीढ़ियां भी स्वस्थ होंगी।
महिला एवं बाल विकास मंत्री भेंड़िया ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश के मुखिया व्यस्तम समय में भी स्वयं सभी नवविवाहित वर-वधुओं को आशीर्वाद देने पहुंचे हैं। पिछले वर्ष कोरोना के कारण आयोजन संपन्न नहीं हो पाया था। बड़ी संख्या में कई घर परिवार के लोग आज इस कार्यक्रम में उपस्थित हुए हैं, जिससे सभी का आशीर्वाद सभी नवविवाहितों को मिल रहा है। मंहगाई के समय में कम खर्च में शादी के लिए सामूहिक कन्या विवाह एक अच्छी योजना है। प्रदेश सरकार ने इस योजना के तहत 10 हजार रूपए की बढ़ोतरी कर 25 हजार रूपए का प्रावधान किया है, इसी प्रकार दिव्यांग जोड़ों के लिए विवाह की प्रोत्साहन राशि भी 50 हजार रूपए से बढ़ाकर एक लाख रूपए कर दी है। उन्होंने नव विवाहित जोड़ों को सुखमय नये जीवन की शुभकामनाएं भी दी।

महिला एवं बाल विकास के सचिव शहला निगार ने बताया कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत इस वर्ष 7 हजार 600 विवाह कराने का लक्ष्य रखा गया है। इस समारोह में नारी निकेतन रायपुर में निवासरत कन्या का विवाह कराकर उसे समाज की मुख्यधारा से जोड़ा गया है। कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए 22 जिलों को वर्चुअल मोड से जोड़ा गया है। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास की संचालक दिव्या उमेश मिश्रा, रायपुर कलेक्टर एस. भारतीदासन सहित विभागीय अधिकारी-कर्मचारी और वर-वधुओं के परिजन उपस्थित थे।

आज छत्तीसगढ़ आरक्षक भर्ती का परिणाम होगा जारी, प्रदेश में कांस्टेबल के 2259 पदों पर चल रही थी भर्ती प्रक्रिया


आज छत्तीसगढ़ आरक्षक भर्ती का परिणाम जारी हो जाएगा। आजशाम तक रिजल्ट जारी हो जाएगा। प्रदेश में कांस्टेबल के 2259 पदों पर भर्ती की प्रक्रिया चल रही थी, जिसकी शारीरिक दक्षता परीक्षा पूर्ण हो जाने के बाद अब परिणाम जारी किया जा रहा है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक आज किसी भी वक्त परीक्षा परिणाम जारी किया जा सकता है।

रायपुर ब्रेकिंग : उरला के कॉटन फैक्ट्री में लगी भीषण आग… मौके पर दमकल की 3 गाड़ियां मौजूद

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से लगे इंडस्ट्रियल एरिया उरला के बजरंग चौक स्थित सर्जिकल कॉटन फैक्ट्री में भीषण आग लगी है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उरला इलाके की एक सर्जिकल कॉटन फैक्ट्री में आज अचानक आग लग गई। वहां काम करने वाले कर्मचारी आग लगने के कारणों को समझ पाते इससे पहले ही आग की लपटें तेजी से बढ़ती गई। आनन-फानन में पुलिस और दमकल को सूचना दी गई। जिसके बाद दमकल की 3 गाड़िया मौके पर पहुंच आग पर काबू पाने में लगी हुई है।

बता दें कि फैक्ट्री में सर्जरी के लिए रुई बनाया जाता है। घटना शार्ट सर्किट की वजह से होने की बताई जा रही है। हालांकि आग की वजह से किसी के घायल होने की सूचना नही मिली है।

रोड सेफ्टी टूर्नामेंट के लिए रायपुर पहुंचे इंग्लैंड से 8 खिलाड़ी… एयरपोर्ट पर PPE किट में नजर आई टीम इंग्लैंड… देखिए VIDEO…

रायपुर। सड़क सुरक्षा के महत्व के विषय में जन-जागरूकता बढ़ाने के लिए नवा रायपुर स्थित शहीद वीर नारायण सिंह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में 5 मार्च से 21 मार्च तक रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरिज क्रिकेेट टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान कुल 15 मैच होंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इस टूर्नामेंट का शुभारंभ करेंगे।
रायपुर के स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट पर शुक्रवार की शाम इंग्लैंड की टीम पहुंची। PPE किट पहनकर आठ खिलाड़ी एयरपोर्ट से होटल के लिए रवाना हुए। रोड सेफ्टी टूर्नामेंट में शामिल होने के लिए ये खिलाड़ी रायपुर आए हैं। इनमें मोंटी पनेसर, अली कबीर, जेम्स रिचर्ड, मस्टर्ड फिलिप, क्रिस्टोफर पॉल, रयान साइटबॉटम जैसे मशहूर प्लेयर शामिल थे।
इंग्लैंड के इन लिजेंड्स को केविन पिटरसन लीड करने वाले हैं। शुक्रवार को पिटरसन भी आने वाले थे लेकिन फिलहाल वो नहीं पहुंचे हैं। एयरपोर्ट से बाहर आते ही मीडिया को देखकर इनमें से एक खिलाड़ी ने कहा हाय हनी आई एम होम (हाय मैं घर आ गया)। सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम के साथ इन खिलाड़ियों को नवा रायपुर के मेफेयर लेक होटल रिजॉर्ट ले जाया गया, जहां पर अब खिलाड़ी क्वारंटाइन रहेंगे।
कोविड के खतरे को ध्यान में रखते हुए एयरपोर्ट से होटल तक खिलाड़ियों को PPE किट में ले जाया गया। कलेक्टर डॉ एस भारतीदासन ने होटल मेफेयर को बायो- बबल जोन घोषित कर दिया है।
दिग्गज खिलाड़ी इसी होटल और रिसॉर्ट में रहेंगे। जिला प्रशासन ने रिसॉर्ट और होटल के पूरे एरिया को 22 फरवरी से 22 मार्च तक बायो-बबल जोन बना दिया है। इस बीच कोई भी बाहरी व्यक्ति रिसॉर्ट में दाखिल नहीं हो सकेगा। आज बांग्लादेश की टीम आयेगी।
इस टूर्नामेंट में इंडिया लिजेंड्स की टीम में सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, युवराज सिंह, मोहम्मद कैफ, जहीर खान, प्रज्ञान ओझा, नोएल डेविड, मुनाफ पटेल, इरफान पठान, मनप्रीत गोनी, यूसुफ पठान और नमन ओझा को शामिल किया गया है।
बताया जा रहा है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा के बाद नमन ओझा पहली बार इस टूर्नामेंट में शामिल हो रहे हैं। टीम इंडिया सोमवार-मंगलवार तक रायपुर पहुंच जाएगी। बांग्लादेश की टीम भी 27 फरवरी को शाम 4 बजे कोलकाता से रायपुर पहुंचेगी।
रायपुर की कनेक्टिंग फ्लाइट लेने के लिए वे ढाका से कोलकाता आएंगे। इस टूर्नामेंट में छह देशों इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, वेस्टइंडीज, बांग्लादेश और मेजबान भारत की टीमें भाग लेंगी।
टूर्नामेंट आयोजन में भारत सरकार द्वारा जारी कोरोना गाइडलाइन का पूरी तरह से पालन किया जाएगा। इसके तहत राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खिलाड़ियों को एयरपोर्ट में स्क्रीनिंग टेस्ट किया जाएगा। खिलाड़ियों को लाने के लिए बसों और उनके ठहरने के लिए उत्तम प्रबंध किए जा रहे हैं।
क्रिकेट टूर्नामेंट के दौरान संचार व्यवस्था के लिए अस्थाई मोबाइल टावर भी लगाया जाएगा। टूर्नामेंट में टिकटों की कीमत अलग-अलग श्रेणियों में 500 से 10 हजार रूपए रखी गई है। इनमें सामान्य टिकट 500, 700, 1100 एवं 1500 रूपए तथा गोल्डन 6000, प्लेटिनम एवं सिलवर 8000 और बॉक्स 10 हजार रूपए निर्धारित की गई है।

देखिये वीडियो

BIG NEWS : राजधानी में देर रात तक… तैनात रही खाकी… शराबखोर मनचलों का… उतारा नशा

रायपुर। राजधानी रायपुर में बीती रात से पुलिस ने शराबखोरी कर तेज रफ्तार में चार पहिया दौड़ाने वालों के खिलाफ सख्ती शुरू कर दी है। बीती रात राजधानी के वीआईपी रोड पर होटलों से निकलने वाले कार सवारों को जांच के दायरे में लिया। इनमें से परिवार के साथ वालों को जाने दिया, तो युवाओं की धमा-चैकड़ी पर नकेल कसने के लिए मौके पर ही उनका नशा भी उतारा।

वीआईपी रोड पर एएसपी सिटी लखन पटले सहित सीएसपी, थानेदार और स्टाफ के अन्य लोगों ने शराब पीकर कार दौड़ा रहे 8 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की। मौके पर ब्रीथ एनालायजर से जांच की गई, जिसमें तय मात्रा से अधिक शराब सेवन के मामले में कार्रवाई की गई है।

एएसपी पटले ने बताया कि अब राजधानी के सभी इलाकों में इस तरह की चेकिंग, खासतौर पर रात के वक्त की जाएगी। उन्होंने बताया कि देर रात शराब के नशे में तेज रफ्तार वाहन चलाने की वजह से कई सड़क हादसे हो चुके हैं, जिसमें काफी लोगों की मौतें हुईं हैं। गौर करने वाली बात यह है कि ये सभी युवा थे। इसे लेकर डीजीपी ने सख्त निर्देश जारी किया है, जिसके चलते अब सख्ती की जा रही है।

BIG NEWS : आज कैट का “भारत बंद”… राजधानी बेअसर… प्रदेश के अन्य हिस्सों में… मिला-जुला असर

जीएसटी विसंगतियों के विरोध में कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स यानी कैट ने आज भारत बंद का आह्वान किया है। छत्तीसगढ़ में इस बंद को सफल बनाने के लिए कैट ने छत्तीसगढ़ चेंबर ऑफ कॉमर्स से भी समर्थन मांगा था। लेकिन चेंबर ने बंद को समर्थन नहीं देने का निर्णय लेते हुए खुद को इस बंद से अलग रखा है। चेंबर के कार्यकारी अध्यक्ष ललीत जैसिंघ ने बताया कि कैट ने दो दिन पहले ही उन्हें चिट्ठी लिखकर समर्थन की मांग की है। लेकिन इतने कम समय में बैठक बुलाना आसान नहीं है।

वहीं कैट के प्रदेश अध्यक्ष अमर परवानी के बताया कि जीएसटी विसंगतियों के विरोध में कई व्यापारिक संगठनों ने समर्थन देने का वादा किया है। उन्होंने कहा कि भले ही प्रदेश स्तर पर छत्तीसगढ़ चेंबर ने समर्थन नहीं दिया है। लेकिन बस्तर, बिलासपुर, कोरबा, कांकेर, महासमुंद, कवर्धा चेम्बर ऑफ कॉमर्स के साथ ही प्रदेश भर के 100 से ज्यादा व्यापारिक संगठनों का समर्थन मिल चुका है। उन्होंने चेंबर के बंद को समर्थन नहीं दिए जाने पर चेंबर के पदाधिकारियों पर राजनीति करने का आरोप लगाया है।

RAIPUR NEWS : ऑक्सीजोन प्रभावित दूकानदारों के लिए बनाई जाएँगी नई दूकानें : डॉ. शिव डहरिया

रायपुर। ऑक्सीजोन से प्रभावित दूकानदारों के लिए नई दूकानें बनाई जाएगी। इसके लिए स्थल निरीक्षण कर लिया गया है, और प्रस्ताव विचाराधीन है। यह जानकारी नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में दी।

प्रश्नकाल में कांग्रेस सदस्य कुलदीप जुनेजा ने जानना चाहा कि क्या जिला प्रशासन द्वारा बिना किसी व्यवस्थापन के खालसा विद्यालय के सामने बनी दूकानों को पूर्ववर्ती शासनकाल मं तोड़ दिया गया था? इसके जवाब में नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने बताया कि शहरी वन विकसित करने के लिए ऑक्सीजोन बनाने हेतु ईएसी कॉलोनी से लगी दूकानों और आवासों को हटाए जाने की कार्रवाई की गई।

नगरीय प्रशासन मंत्री ने यह भी बताया कि आश्वासन के अनुसार बेहतर विकल्प के लिए कांपा, मेडिकल कॉम्पलेक्स के सामने और लालगंगा के पीछे स्थित भूमि का भ्रमण कर स्थल निरीक्षण किया गया। वर्तमान में निकाय से प्राप्त प्रस्ताव पर कार्रवाई प्रक्रियाधीन है।

26 को भारत बंद का ऐलान, ‘कैट’ ने किया GST का विरोध

रायपुर। GST विसंगतियों के विरोध में कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स यानी कैट ने शुक्रवार 26 फरवरी को भारत बंद का आव्हान किया है। छत्तीसगढ़ में इस बंद को सफल बनाने के लिए कैट ने छत्तीसगढ़ चेंबर ऑफ कॉमर्स से भी समर्थन मांगा था।

लेकिन चेंबर ने बंद को समर्थन नहीं देने का निर्णय लेते हुए खुद को इस बंद से अलग रखा है। चेंबर के कार्यकारी अध्यक्ष ललीत जैसिंघ ने बताया कि कैट ने दो दिन पहले ही उन्हें चिट्ठी लिखकर समर्थन की मांग की है। लेकिन इतने कम समय में बैठक बुलाना आसान नहीं है।

वहीं कैट के प्रदेश अध्यक्ष अमर परवानी के बताया कि GST विसंगतियों के विरोध में कई व्यापारिक संगठनों ने समर्थन देने का वादा किया है। उन्होंने कहा कि भले ही प्रदेश स्तर पर छत्तीसगढ़ चेंबर ने समर्थन नहीं दिया है।

लेकिन बस्तर, बिलासपुर, कोरबा, कांकेर, महासमुंद, कवर्धा चेम्बर ऑफ कॉमर्स के साथ ही प्रदेश भर के 100 से ज्यादा व्यापारिक संगठनों का समर्थन मिल चुका है। उन्होंने चेंबर के बंद को समर्थन नहीं दिए जाने पर चेंबर के पदाधिकारियों पर राजनीति करने का आरोप लगाया है।

EXCLUSIVE : कल से 22 मार्च तक के लिए… “लाॅक” हो जाएगा… नवा रायपुर का यह इलाका

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के नवा रायपुर के होटल मे-फेयर में कल से क्रिकेट के लिजेंड स्टार्स के पहुंचने का सिलसिला शुरू होने वाला है। विश्वभर से पहुंचने वाले इन खिलाड़ियों का हौसला और जुनुन 5 मार्च से शहीद वीरनारायण सिंह अंतराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में नजर आएगा। इससे पहले इनके ठहरने और प्रैक्टिस को लेकर व्यवस्थाओं का दौर अब भी जारी है।

भारतीय क्रिकेट सितारों में सचिन तेंडूलकर, वीरेन्द्र सहवाग सहित कई धाकड़ खिलाड़ी, जिन्होंने अपने दौर में क्रिकेट प्रेमियों को कई रोमांचक पलों का अहसास कराया है, वे रायपुर में खेलते हुए नजर आएंगे। इसके लिए बुक माय शो के माध्यम से टिकट लेने की सुविधा भी दी गई है।

कोरोना के खतरों को भांपते हुए क्रिकेट के इन लिजेंडरी सितारों की सुरक्षा का खास ख्याल रखते हुए होटल मे-फेयर को “बायो-बबल” घोषित कर दिया गया है। होटल सहित परिसर से एक किमी का दायरा पूरी तरह से लाॅक कर दिया गया है। यहां पहुंचने के बाद खिलाड़ियों को भी इसी दायरे के भीतर ही रहना है। प्रैक्टिस के लिए स्टेडियम में जाने से लेकर लौटने तक के लिए विशेष सुरक्षा इंतजाम तैनात किया जाएगा। वहीं सादी वर्दी में 20 अधिकारियों को सुरक्षा के लिए पूरे समय तैनात रखा जाएगा।

बढ़ती महंगाई को लेकर केंद्र सरकार के नितियो के विरोध में, कांग्रेसीयो ने केंद्र सरकार का पुतला फूंका !

पुतला दहन किए, पूर्व नियोजित पुतला दहन कार्यक्रम के तहत कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा स्कुटी वाहन में प्रधानमंत्री और अड़ानी अम्बानी का पुतला बना कर स्कुटी में बिठाए जिसे ट्रेक्टर में डाल कर आधे किलोमीटर तक रस्से के सहारे से कार्यकर्ताओं द्वारा खींचते हुए तिरंगा चोंक ले कर आए और वहाँ ज़मीन में बैठ कर नकेंद्र सरकार और अड़ानी अम्बानी के ख़िलाफ़ में जमकर नारेबाज़ी की,

ज्ञात हो की वर्तमान में पेट्रोल डीज़ल के साथ दैनिक उपयोग के चीज़ों की महंगाई अपने चरम सीमा पर है ! इसके विरोध स्वरूप आज गरियाबंद ज़िले के कांग्रेसियो ने देस के प्रधानमंत्री का पुतला दहन किया, इस दौरान पुतला दहन को रोकने आए पुलिस और कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के बीच जमकर झूमा झटकी की स्थिति निर्मित हो गई गौरतलब है

प्रदेस कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम जी का यह प्रथम नगर आगमन गरियाबंद ज़िले में हुआ जहां वे स्थानीय मंगल भवन में कार्यकर्ताओं के बैठक लिए इसके पश्च्यात प्रदेस कांग्रेस अध्यक्ष की उपस्थिति में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नगर के हृदय स्थल तिरंगा चोंक में पेट्रल डीज़ल की बढ़ती महंगाई को ले कर स्कुटी वाहन के साथ प्रधानमंत्री और अड़ानी अम्बानी का

देखा गया की प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने स्वयं डोर के साहारे पुतला रखे ट्रेक्टर को खींचते हुए तिरंगा चौक तक ले कर आए

उनकी उपस्थिति में पुतला दहन का कार्यक्रम किया गया इस पुतला दहन के लिए गरियाबंद पुलिस के द्वारा सुरक्षा व्यवस्था को ले कर दुरुस्त चौक चौबंध का व्यवस्था किया गया था फिर भी कार्यकर्ता पुतला जलाने में सफल हुए और इस दौरान पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच झूमा झटकी की स्थिति निर्मित हुई


इस कार्यक्रम में विशेष रूप से उपस्थित थे.. ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के पूर्व ब्लाक अध्यक्ष आबिद ढेबर रितिक सिन्हा योगेंद्र चंद्राकर अवनीश तिवारी शिव साहू सफीक खान अहसान मेमन मनीष ध्रुव दौलत मंडावी भीम निषाद दुलेश ध्रुव नासिर कुरेशी निरंजन प्रधान रूपेंद्र चंद्राकर छत्रपाल कुंजाम भूपेंद्र ध्रुव सोहन ध्रुव चंद्रहास कवर नंदू गोस्वामी दिनेश धुर्वे वेदराम निषाद कमल दीवान

ब्रेकिंग : DGP अवस्थी ले रहे सभी IG और SP की बैठक… नशे के बढ़ते कारोबार समेत इन मामलों में हो रही समीक्षा

रायपुर। डीजीपी डीएम अवस्थी प्रदेश में बढ़ते अपराध को लेकर समीक्षा कर रहे हैं। समीक्षा बैठक में सभी IG और SP शामिल हुए। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हो रही बैठक में लॉ एंड ऑर्डर, नशे के बढ़ते कारोबार पर लगाम लगाने को लेकर समीक्षा हो रही है।

इसके आलवा प्रदेश में महिला और युवतियों पर बढ़ते अपराध की समीक्षा डीजीपी कर रहे हैं। पुराने निर्देशों के अमल की भी समीक्षा की जा रही है। उल्लेखनीय है प्रदेश में लगातार चाकूबाजी की घटनाएं सामने आ रही है। वहीं दूसरी ओर तमाम कोशिश के बाद भी नशे का कारोबार जारी है। इस पर लगाम लगाने के लिए डीजीपी नए सिरे से मामलों की समीक्षा कर रहे हैं।

BIG NEWS : सहायक सब इंस्पेक्टर की मौत की जाँच करेगी राज्य स्तरीय ए ई एफ आई समिति… कुछ दिनों पूर्व हुई थी कोरोना से मौत…

रायपुर। राज्य टीकाकरण अधिकारी डाॅ अमर सिंह ठाकुर ने आज बताया कि रायपुर में 14 फरवरी को सहायक सब इंस्पेक्टर उम्र 34 वर्ष की मृत्यु हुई। उनका पोस्टमार्टम किया गया और अंतिम रिपोर्ट अभी आना बाकी है। उन्होने कहा कि प्रथम दृष्टया इसका संभावित कारण हृदयाघात लग रहा है किंतु रिपोर्ट आने एवं राज्य स्तरीय ए ई एफ आई समिति द्वारा रिपोर्ट का विस्तृत विश्लेषण करने के बाद मृत्यु का वास्तविक कारण ज्ञात हो सकेगा। सहायक सब इंस्पेक्टर कोे 12 फरवरी को रायपुर में कोविड वैक्सीन लगाई गई थी। उन्हे 14 फरवरी को रात में सीने में अचानक दर्द होने के कारण एक निजी अस्पताल ले जाया गया। वहां के डाक्टरों ने प्राथमिक जांच करके बताया कि अस्पताल पहुंचने के पूर्व ही उनकी मृत्यु हो गई थी। उनका आज 15 फरवरी को मेकाहारा रायपुर में पोस्ट मार्टम किया गया।

राज्य स्तरीय ए ई एफ आई समिति के अध्यक्ष एवं पं. जवाहर लाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय के कम्यूनिटी मेडीसीन विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ निर्मल वर्मा ने बताया कि उक्त प्रकरण, समिति के संज्ञान में आया और समिति द्वारा बैठक में चर्चा के बाद, भारत शासन के दिशा निर्देशों के अनुरूप जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी रायपुर से, निर्धारित प्रारूप में जानकारी मंागी गई है। इस रिपोर्ट का विस्तृत विश्लेषण करने के बाद ही मृत्यु का वास्तविक कारण ज्ञात हो सकेगा। उन्होने कहा कि सामान्यतः पोस्टमार्टम एक व्यक्ति द्वारा किया जाता है,लेकिन इस प्रकरण में एक टीम ने पोस्टमार्टम किया।

राज्य स्तरीय समिति में अनेक विशेषज्ञ चिकित्सक, आई ए p के प्रतिनिधि एवं यूनीसेफ के प्रतिनिधि सदस्य हंै। यह समिति सभी प्रकार के टीकाकरण के बाद कोई एडवर्स इवेंट होने के सभी प्रकरणों की जांच करती हैं।

BREAKING : राजधानी के वीआईपी रोड में… वीआईपी सुरक्षा वाहन दुर्घटनाग्रस्त… पुलिस अफसर सहित 3 घायल…

रायपुर। आज सुबह एयरपोर्ट रोड पर वीआईपी सुरक्षा में तैनात जिप्सी और एक निजी डस्टर कार के बीच जोरदार भिड़ंत हो गई। इस हादसे में एक वीआईपी सुरक्षा अफसर, एक पुलिस कर्मी और एक अन्य घायल हो गए हैं। तीनों की हालत सामान्य बताई जा रही है, किसी तरह से जान का नुकसान नहीं हुआ है।

जानकारी के मुताबिक दोनों ही वाहन विपरीत दिशा से आ रही थीं, लेकिन रफ्तार दोनों की तेज थी। दुर्घटना को लेकर फिलहाल स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है, लेकिन अंदेशा व्यक्त किया जा रहा है कि कन्यूजन की वजह से दोनों वाहनों के चालक कुछ समझ नहीं पाए और आपस में वाहन भिड़ गईं।

इसमें दो राय नहीं कि टक्कर जोरदार हुआ है। वीआईपी सुरक्षा में तैनात जिप्सी के साथ ही दूसरी गाड़ी डस्टर के सामने का हिस्सा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुआ है। इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि इनकी रफ्तार काफी ज्यादा थी।

RAIPUR : चलती ट्रेन से फिसली महिला… RPF के जवानों ने ऐसे बचाई जान… देखे VIDEO  

रायपुर। राजधानी के रेलवे स्टेशन में बड़ा हादसा होते-होते टल गया। कल के घटनाक्रम का वीडियो सामने आया है। वीडियो में देखा जा सकता है कि एक महिला चलती ट्रेन में चढ़ने के दौरान फिसलकर गिर गई। प्लेटफार्म गश्त के दौरान आरपीएफ के जवानों ने नजर पड़ते ही दौड़कर महिला को ट्रेन के नीचे जाने से बचा लिया।
दरअसल शनिवार को गाड़ी संख्या 02834 अहमदाबाद-हावड़ा स्पेशल एक्सप्रेस के दोपहर 01:35 बजे प्लेटफार्म नंबर एक से रवाना होने के दौरान यह घटना हुई। यात्री दामन साहू अपनी पत्नी और छोटी बच्ची के साथ चलती गाड़ी में दौड़कर चढ़ने का प्रयास किया। यात्री दामन साहू तो दौड़कर ट्रेन में चढ़ गए,बच्ची को भी चलती गाड़ी में चढ़ा लिए, लेकिन उनकी पत्नी चढ़ने की कोशिश में फिसल कर नीचे आ गई। पास ही में उपनिरीक्षक सनातन थनापति मंडल टास्क टीम रेलवे सुरक्षा बल रायपुर और डिटेक्टिव विंग के प्रधान आरक्षक सीएमकेवी दुबे गश्त कर रहे थे। महिला को ट्रेन व प्लेटफार्म के मध्य गिरता हुआ देखकर तुरंत तत्परता से उपनिरीक्षक सनातन थनापति द्वारा महिला को रेलगाडी एवं पलेटफम के बीच आने से बचा कर जीवन रक्षा प्रदान की गई।

देखे वीडियो

ब्रेकिंग न्यूज़ : DGP अवस्थी ने की कार्रवाई, एसआई और एएसआई निलंबित, अवैध शराब का था मामला

रायपुर। जिला रायगढ़ क्षेत्रांतर्गत आबकारी विभाग द्वारा अवैध शराब का जखीरा पकड़ा गया है। संबंधित थाना क्षेत्र में पदस्थ उप निरीक्षक आरएस नेताम एवं सहायक उप निरीक्षक रमेश बेहरा, ड्यूटी में लापवाही के बरतने चलते तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। यह आदेश डीएम अवस्थी ने जारी किया है। मामले में एएसपी और सीएसपी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

ये कुत्ता है की मानता नहीं… परिवार को लगवाया थाने का चक्कर

रायपुर। राजधानी रायपुर के सफायर ग्रीन कॉलोनी में एक कुत्ते ने 12 साल के बच्चे को काट लिया। इसी कॉलोनी में लखानी का भी परिवार रहता हैं। बुधवार शाम को बालक रुद्राक्ष लैपटॉप लेने लखानी के घर पहुंचा था, तभी उनके पालतू कुत्ते ने बच्चे पर हमला कर उसे काट लिया। दरअसल बच्चे के परिवार के लोगों ने पहले भी कई बार लखानी परिवार को उनके कुत्ते को संभालकर रखने को कहा था, क्योंकि यह कुत्ता अक्सर किसी न किसी को काटने की कोशिश करता है।

बच्चे के परिवार ने अब कुत्ते के मालिक लखानी के खिलाफ विधानसभा थाना में केस दर्ज करवा दिया है। जानकारी के अनुसार लखानी की पत्नी ने भी बंसल परिवार के खिलाफ थाने में मारपीट की शिकायत दर्ज कराई है। अब पुलिस दोनों पक्षों के खिलाफ जाँच कर रही है।

93 लाख टन खरीदी के साथ-साथ धान के दाने-दाने का जतन भी जरुरी, 7 हजार 606 पक्के चबूतरों का निर्माण

रायपुर। फसल संरक्षण की सस्ती, परंपरागत और अनूठी तरकीब अपनाते हुए छत्तीसगढ़ ने एक पंथ और कई काज की कहावत को चरितार्थ कर दिखाया है। हर साल संग्रहण केंद्रों में खरीदे गए धान की बड़ी मात्रा जहां नमी, बारिश, ओलावृष्टि, चूहों और दीमक की वजह से खराब हो जाती थी, वहीं इस बार इस क्षति को रोकने के लिए इन केंद्रों में विशेष तरह के पक्के चबूतरों का निर्माण किया गया है। कोरोना-काल के दौरान इन चबूतरों का निर्माण महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना के तहत किया गया है। इससे बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसरों का निर्माण भी हुआ।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर छत्तीसगढ़ में इस साल किसानों से खरीदे गए धान को सुरक्षित रखने के लिए यह नयी व्यवस्था की गई है। सभी जिलों में कुल 7606 चबूतरों का निर्माण किया गया है। राज्य शासन ने समर्थन मूल्य पर इस साल रिकॉर्ड 93 लाख मीटरिक टन से अधिक की धान खरीदी की है। छत्तीसगढ़ के अलग राज्य बनने के बाद से किसानों से यह सर्वाधिक धान की खरीदी है। इतनी बड़ी मात्रा में खरीदे गए धान को सुरक्षित रखना भी बड़ी चुनौती है।

धान संग्रहण केंद्रों में इस साल बड़ी संख्या में बनाए गए पक्के चबूतरों से इन्हें सुरक्षित रखने में भरपूर मदद मिल रही है। प्रत्येक चबूतरे पर तीन-तीन हजार बोरियां रखी जा सकती हैं। संग्रहण केन्द्रों में जरूरत के मुताबिक खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के मानकों के अनुरूप इसके लिए 10.6 मीटर लंबाई और साढ़े सात मीटर चौड़ाई के चबूतरे बनाए गए हैं।